Bharat Bandh on March 26: कल भारत बंद, किसान नेता बोले, बंद रहेगा सभी तरह का व्यापार, ट्रांसपोर्ट यूनियन का भी समर्थन

Bharat Bandh on 26 March 2021: शुक्रवार के भारत बंद को कई राजनीतिक दलों ने भी समर्थन किया है। कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने प्रदर्शनकारी किसानों के समर्थन में ट्वीट कर भारत बंद को समर्थन देने की बात कही है।

farmers protest, Farm law, Singhu Border
Bharat Bandh: दिल्ली में सिंधु बोर्डर पर प्रदर्शन करते किसान (फाइल, फोटो- इंडियन एक्सप्रेस/ अमित मेहरा)

Bharat Bandh 26 March 2021: तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के चल रहे आंदोलन के तहत, शुक्रवार को भारत बंद का ऐलान किया गया है। संयुक्त किसान मोर्चा के अनुसार आंदोलन के 120 दिन पूरे होने पर इस बंद का आयोजन किया गया है। मोर्चा ने लोगों से बंद को सफल बनाने की अपील की है। मोर्चा ने कहा है कि बंद का कार्यक्रम शुक्रवार सुबह 6 बजे से शाम 6 बजे तक के लिए रखा गया है। बंद के दौरान सभी तरह के व्यापार ठप रहेंगे।

किसान मोर्चा ने कहा है कि अपातकालीन सेवाओं को इस बंद से दूर रखा गया है। इसके अलावा सभी तरह के कार्य बंद के दौरान ठप रहेंगे। किसानों की तरफ से रेल और सड़क चक्का-जाम की भी तैयारी है। किसान मज़दूर संघर्ष कमेटी के महासचिव श्रवण सिंह पंढेर ने कहा कि कल भारत बंद है और इसे सफल करने के लिए हम यहां सभी लोगों को सूचित कर रहे हैं। कल सभी तरह का व्यापार बंद रहेगा। व्यापार मंडल के लोग, ट्रांसपोर्ट यूनियन और ट्रेड यूनियन के लोगों ने इस बंद का समर्थन किया है।

किसान नेताओं ने कहा है कि पूरे भारत में बंद सफल रहेगा। जिन राज्यों में चुनाव होने वाले हैं उन राज्यों को बंद से अलग रखा गया है।इससे पहले संयुक्त किसान मोर्चा की तरफ से चक्का जाम किया गया था जिसमें, उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश शामिल नहीं था।

बंद को कई राजनीतिक दलों का समर्थन: बंद को कई राजनीतिक दलों की तरफ से भी समर्थन दी गयी है। कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने प्रदर्शनकारी किसानों के समर्थन में ट्वीट किया है उन्होंने कहा है कि हम 26 मार्च को भारत बंद के आह्वान का समर्थन करते हैं।

बताते चलें कि सरकार के साथ 11 दौर की वार्ता के बाद भी दोनों पक्ष के बीच कोई फैसला नहीं हो पाया था। जिसके बाद से सरकार और किसानों के बीच डेडलॉक जारी है। दोनों ही पक्षों के बीच अंतिम बार वार्ता 22 जनवरी को हुई थी। किसानों की तरफ से इस बंद का आयोजन चार राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान से ठीक एक दिन पहले रखा गया है।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

X