ताज़ा खबर
 

भारत बंद: भोपाल में दिखी सत्ता की हनक, बंद रहे बाजार, मगर खुली रही सीएम के बेटे की दुकान

Bharat Band, Bharat Bandh Today on 10th September 2018 News (भारत बंद): कार्तिकेय चौहान 'फ्लोरिका' नाम से फूलों की दुकान चलाते हैं। मार्केट में कार्तिकेय की दुकान छोड़कर बाकी सभी दुकानें बंद रहीं और सन्नाटा पसरा रहा। प्रशासन को पहले से ही अदेशा था कि कुछ हो-हल्ला हो सकता है इसलिए पुलिस के सुरक्षाकर्मी कार्तिकेय चौहान की दुकान पर तैनात देखे गए।

दाएं से सबसे पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के बेटे कार्तिकेय चौहान। भारत बंद के दौरान भोपाल स्थित कार्तिकेय की फूलों की दुकान खुली रही। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

भारत बंद, Bharat Bandh Today: मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के रविशंकर मार्केट स्थित मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के बेटे कार्तिकेय चौहान की फूलों की दुकान भारत बंद के असर से अछूती रही। कार्तिकेय चौहान ‘फ्लोरिका’ नाम से फूलों की दुकान चलाते हैं। मार्केट में कार्तिकेय की दुकान छोड़कर बाकी सभी दुकानें बंद रहीं और सन्नाटा पसरा रहा। प्रशासन को पहले से ही अदेशा था कि कुछ हो-हल्ला हो सकता है इसलिए पुलिस के जवान कार्तिकेय चौहान की दुकान पर तैनात देखे गए। स्थानीय मीडिया के मुताबिक कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कार्तिकेय की दुकान बंद कराने की कोशिश की थी लेकिन सफल नहीं हो पाए। बता दें कि सोमवार (10 सितंबर) को मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस के आह्वान पर देश भर में भारत बंद का असर देखने को मिला। कई जगहों से हिंसा की खबरें भी आईं। मध्य प्रदेश के उज्जैन में एक पेट्रोल पंप में तोड़फोड़ किए जाने समेत कई खबरें आईं लेकिन भारत बंद प्रदर्शन के दौरान सीएम के बेटे की दुकान खुले रहने को सत्ता की हनक के तौर पर देखा जा रहा है।

बता दें कि इसी वर्ष की शुरुआत में (7 जनवरी) को कार्तिकेय चौहान का राजनीति में डेब्यू हो गया था। उन्होंने अपने पिता शिवराज के बुधनी विधानसभा क्षेत्र से बाहर पहली बार शिवपुरी के कोलारस में भाषण दिया था। यह मुंगावली और कोलारस विधानसभा सीटों के उपचुनाव से पहले का मौका था। सोमवार को कांग्रेस समेत विपक्षी दलों के भारत बंद के जवाब में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय संकट की वजह से पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतों में बढ़ोतरी से क्षणिक परेशानी हुई है।

बीजेपी ने भारत बंद के दौरान घटी हिंसक घटनाओं की निंदा की। पार्टी ने दावा किया कि बंद विफल रहा, क्योंकि लोग कारण जानते हैं कि पेट्रोल और डीजल की कीमतें क्यों ऊपर जा रही हैं। केंद्रीय कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने मीडिया से कहा, ‘भारत के लोग भारत बंद से अलग क्यों हैं। वे ईंधन की कीमतों में बढ़ोतरी को समझते हैं कि यह क्षणिक है और यह भारत सरकार और सामान्य भारतीय नागरिक के नियंत्रण के बाहर के कारकों के कारण है।’ उन्होंने कहा, ‘यह कांग्रेस और दूसरी विपक्षी दलों को हतोत्साहित करने वाला है। इसी वजह से वे हिंसा का सहारा ले रहे हैं।’

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App