scorecardresearch

जब BCCI के बॉस की बात आती है तो BJP वंशवाद की बात नहीं करती- ममता ने अमित शाह के बेटे की याद दिला कसा तंज

ममता बनर्जी ने कहा कि अगले चुनाव में लोग बीजेपी का विरोध करने के लिए मतदान करेंगे।

mamata, BCCI, Jay Shah,
एक कार्यक्रम के दौरान टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी (फोटो- @MamataBanerjeeOfficial)

बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने एक कार्यक्रम के दौरान बीजेपी पर जमकर निशाना साधा। परिवारवाद और वंशवाद को लेकर जब उनसे सवाल पूछा गया तो उन्होंने अमित शाह के बेटे जय शाह की याद दिलाते हुए पलटवार कर दिया।

दरअसल ममता बनर्जी इंडिया टुडे कॉन्क्लेव ईस्ट 2022 में भाग लेने पहुंचीं थीं। जहां उनसे एंकर द्वारा वंशवाद पर सवाल पूछा गया था। इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि जब बीसीसीआई के बॉस की बात आती है तो भारतीय जनता पार्टी वंशवाद की बात नहीं करती है। उन्होंने कहा- “जब कोई बीसीसीआई का शीर्ष बॉस बनता है, तो वंशवाद की राजनीति की कोई बात नहीं होती है। इसका उल्लेख केवल उन लोगों के लिए किया गया है जो वास्तव में जमीनी स्तर पर लोगों के लिए लड़ते हैं।”

ममता बनर्जी पर भी भतीजे अभिषेक बनर्जी को लेकर परिवारवाद का आरोप लगते रहा है। आगे टीएमसी प्रमुख ने कहा कि अगले चुनाव में लोग बीजेपी के खिलाफ विरोध करने के लिए वोट डालेंगे। उन्होंने कहा- “अगले चुनाव, लोग विरोध पर मतदान करेंगे। लोग किसी पार्टी को चुनने के लिए नहीं, बल्कि बीजेपी को खारिज करने के लिए वोट करेंगे। आप अपनी शक्ति का दुरुपयोग करके लोकतंत्र को कुचल सकते हैं, लेकिन इस देश के लोग लोकतांत्रिक साधनों का उपयोग करके आपको खत्म कर देंगे।”

इसके साथ ही ममता बनर्जी ने एकनाथ शिंदे और देवेंद्र फडणवीस के नेतृत्व वाली नई महाराष्ट्र सरकार के बारे में भी बात की। उन्होंने कहा कि मेरा मानना ​​है कि यह सरकार नहीं चलेगी। यह एक अनैतिक अलोकतांत्रिक सरकार है।

वहीं बंगाल चुनाव के बाद हुई हिंसा को लेकर ममता बनर्जी ने कहा कि ऐसा कुछ नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि चुनाव से पहले इक्कीस लोगों की मृत्यु हुई, तब चुनाव आयोग के तहत बंगाल में राष्ट्रपति शासन था। बीएसएफ ने चार लोगों को मार गिराया। मृतकों में सोलह तृणमूल कांग्रेस के थे। ममता ने कहा- “अगर बंगाल में चुनाव के बाद की हिंसा की कोई रिपोर्ट है, तो आप सभी मानवाधिकार आयोग और अन्य पैनल भेजें।”

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट

X