प. बंगालः भवानीपुर सीट भी ममता बनर्जी के लिए चुनौती? सीएम से मिले प्रशांत किशोर

अब फिर से उपचुनाव नजदीक हैं और आज एक महीने बाद प्रशांत किशोर आए और ममता और अभिषेक बनर्जी के साथ एक घंटे से अधिक समय तक मुलाकात की।

Mamata Banerjee, PK, Bengal, I-PAC
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

बीजेपी को हराने वाली तिकड़ी फिर कोलकाता में साथ नजर आई। ममता बनर्जी का बंगाल में अपना एक करिश्मा है लेकिन पिछले विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने उन्हें हराने की पूरी कोशिश की थी। राजनीतिक पंडितों का कहना है कि ममता ने एक ठोस टीम बनाई थी, जिसमें उनके मुख्य कमांडर अभिषेक बनर्जी और तत्कालीन रणनीतिकार प्रशांत किशोर थे। अभिषेक और प्रशांत की टीम, जिसे मुख्य रूप से एबी और पीके के रूप में जाना जाता है, ने सही दिशा में काम किया है, सही लोगों और सही रणनीति को चुना जिसने बीजेपी को बंगाल में पटकनी दी।

अब फिर से उपचुनाव नजदीक हैं और आज एक महीने बाद प्रशांत किशोर आए और ममता और अभिषेक बनर्जी के साथ एक घंटे से अधिक समय तक मुलाकात की। वे भवानीपुर के एक मंदिर में गए, जहां उन्हेंने आरती की और प्रार्थना की। इस मुलाकात से कयासों का दौर शुरू हो गया है। माना जा रहा है कि बैठक टीएमसी के संगठनात्मक विस्तार पर हो सकती है। सूत्रों का कहना है कि टीएमसी गोवा में अपना आधार बढ़ा सकती है। इसके अलावा, चर्चा विपक्षी एकता पर भी हो सकती है। दूसरी बात, टीएमसी भवानीपुर चुनाव में ममता की जीत के अंतर पर अधिक ध्यान केंद्रित कर रही है। तीसरी बात यह कि कोई बड़ा चेहरा भी जल्द ही टीएमसी में शामिल हो सकता है।

बता दें कि ममता आज से भवानीपुर में तीन दिवसीय प्रचार अभियान की शुरुआत करेंगी। भाजपा के केंद्रीय मंत्री भी मंगलवार से चुनाव प्रचार के लिए आएंगे। वहीं, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की पश्चिम बंगाल इकाई के नवनियुक्त अध्यक्ष सुकांत मजुमदार ने ‘‘राज्य के तालिबानीकरण’’ से लड़ने का मंगलवार को संकल्प लिया और कहा कि पार्टी अपनी गलतियां सुधारेगी और आने वाले दिनों में विजयी बनकर उभरेगी।

बीते कुछ महीनों में लोगों के भाजपा छोड़ कर जाने के मामलों को अधिक महत्व देने से इनकार करते हुए मजूमदार ने कहा कि जिन लोगों की पार्टी की विचारधारा और उसके उद्देश्य के लिए प्रतिबद्धता है वे पार्टी कभी भी नहीं छोड़ेंगे।

मजूमदार ने राज्य में पार्टी के मुख्यालय पर सम्मान समारोह को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘पार्टी नेतृत्व एवं मेरे पूर्ववर्तियों के सहयोग से, राज्य के तालिबानीकरण के खिलाफ मैं अपनी लड़ाई जारी रखूंगा। हमारे लिए, भाजपा कार्यकर्ता ही हमारी वास्तविक संपत्ति हैं। यदि हमने कोई गलती की है तो हम उसे सुधारेंगे।’’

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट