चुनाव से पहले UP विस में “नमाज रूम” की मांग, बिहार में बीजेपी MLA ने हनुमान चालीसा पाठ को मांगा स्थान; झारखंड में जारी है विवाद

विधायक ने कहा कि इबादत भी जरूरी है और विधानसभा सत्र भी जरूरी है। विधानसभा में प्रार्थना के लिए अलग जगह बननी चाहिए। सोलंकी ने कहा कि मुस्लिम विधायकों को सत्र छोड़कर मस्जिदों में नमाज के लिए जाना पड़ता है।

muslim reservation, govt schemes, Ramapati Shastri, Utter pradesh, minorities, up news, hindi news, jansatta
नमाज अदा करते मुस्लिम समुदाय के लोग। तस्वीर का उपयोग प्रस्तुतिकरण ( Photo Source: Indian Express/ Archives)

झारखंड के बाद अब उत्तर प्रदेश और बिहार में भी विधानसभा में इबादत को लेकर विवाद बढ़ने की संभावना है। उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी के विधायक इरफान सोलंकी ने विधानसभा स्पीकर से प्रेयर रूम की मांग की है। विधायक ने कहा है कि इबादत के लिए एक कमरा बना देने से किसी को परेशानी नहीं होगी। वहीं बिहार में बीजेपी विधायक हरिभूषण ठाकुर बचौल ने हिंदू भावनाओं का ख्याल रखते हुए विधानसभा में हनुमान चालीसा का पाठ करने के लिए छुट्टी और जगह मुहैया कराने की मांग की है।

यूपी में समाजवादी पार्टी के विधायक इरफान सोलंकी ने कहा कि इबादत भी जरूरी है और विधानसभा सत्र भी जरूरी है। विधानसभा में प्रार्थना के लिए अलग जगह बननी चाहिए। सोलंकी ने कहा कि मुस्लिम विधायकों को सत्र छोड़कर मस्जिदों में नमाज के लिए जाना पड़ता है। विधानसभा अध्यक्ष चाहे तो एक छोटा कमरा इबादत के लिए बनवा सकते हैं। सपा विधायक ने कहा कि इससे किसी को भी परेशानी नहीं होगी।

बताते चलें कि झारखंड विधानसभा में भाजपा सदस्यों ने नमाज पढ़ने के लिए एक कमरा आवंटित करने के मुद्दे पर सोमवार को भारी हंगामा किया जिसके कारण सदन की बैठक बाधित हुई। सदन की कार्यवाही शुरू होने पूर्व भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सदस्य हनुमान चालीसा का पाठ करते हुए सदन के प्रवेश द्वार की सीढ़ियों पर बैठ गये। उनके हाथों में तख्तियां थीं, जिस पर लिखा था ‘हरे राम’।

जब कार्यवाही शुरू हुई तो भाजपा सदस्य ‘जय श्री राम’ का नारा लगाते हुए आसन के समीप चले गये। वे नमाज कक्ष आवंटन से संबंधित आदेश को वापस लेने की मांग कर रहे थे। अध्यक्ष रवींद्रनाथ महतो ने भानुप्रताप साही समेत भाजपा सदस्यों से उनकी सीटों पर वापस जाने की अपील की। उन्होंने उनसे कहा, ‘‘आप अच्छे सदस्य हैं। कृपया, पीठासीन अधिकारी के साथ सहयोग कीजिए। ’’

लेकिन जब शोर-शराबा जारी रहा तब अध्यक्ष ने पौने एक बजे तक के लिए सदन की कार्यवाही स्थगित कर दी। भाजपा कार्यकर्ताओं ने नमाज कक्ष से संबंधित फैसले के विरूद्ध राज्यभर में प्रदर्शन किया तथा मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन एवं विधानसभाध्यक्ष के पुतले फूंके। अध्यक्ष ने नमाज पढ़ने के लिए के लिए कक्ष संख्या टी डब्ल्यू 348 आवंटित किया है । इस पर भाजपा विधानसभा परिसर में हनुमान मंदिर एवं अन्य धर्मावलंबियों के लिए उपासना स्थलों की मांग कर रही है।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट