scorecardresearch

स्वतंत्रता दिवस से पहले बीजेपी और कांग्रेस में रार, BJP ने किया बंटवारे का जिक्र तो कांग्रेस ने ऐसे किया पलटवार

जयराम रमेश ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि देश को बांटने के लिए आधुनिक दौर के सावरकर और जिन्ना का प्रयास आज भी जारी है।

स्वतंत्रता दिवस से पहले बीजेपी और कांग्रेस में रार, BJP ने किया बंटवारे का जिक्र तो कांग्रेस ने ऐसे किया पलटवार
पीएम नरेंद्र मोदी (फोटो सोर्स: screengrab/@narendramodi)

स्वतंत्रता दिवस से पहले एक बार फिर से कांग्रेस और बीजेपी में रार छिड़ गई है। दरअसल आज पाकिस्तान अपना स्वतंत्रता दिवस मना रहा है। आज ही के दिन बीजेपी ने अपने सभी सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर एक वीडियो जारी किया है, जिसमें उसने बंटवारे के लिए पंडित जवाहरलाल नेहरू को जिम्मेदार ठहराया है। बीजेपी ने आज के दिन को विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस करार दिया है। वहीं कांग्रेस ने बीजेपी पर पलटवार किया है।

बीजेपी ने 7 मिनट लंबा एक वीडियो जारी किया है, जिसमें बताया गया है कि पंडित नेहरू, मोहम्मद अली जिन्ना की मांग के सामने झुक गए थे। पंडित नेहरू के जिन्ना के सामने झुकने के बाद भारत का बंटवारा हुआ। इस वीडियो में बताया गया है कि किस प्रकार से मुस्लिम लीग ने पाकिस्तान की मांग रखी थी और उसका प्रस्ताव पास किया। साथ ही किस प्रकार से कांग्रेस और कम्युनिस्ट पार्टी ने उनके इस मांग को मांग लिया।

वहीं वीडियो के सामने आने के बाद कांग्रेस के नेशनल मीडिया हेड जयराम रमेश ने बीजेपी पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा, “14 अगस्त को विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस के रूप में मनाने के पीछे प्रधानमंत्री की वास्तविक मंशा सबसे दर्दनाक ऐतिहासिक घटनाओं को अपने राजनीतिक लाभ के लिए इस्तेमाल करना है। लाखों लाख लोग विस्थापित हुए और जानें गईं। उनके बलिदानों को भुलाया या अपमानित नहीं किया जाना चाहिए।”

जयराम रमेश ने आगे ट्वीट करते हुए कहा, “बंटवारे की त्रासदी का दुरुपयोग नफरत और पूर्वाग्रह की भावना को भड़काने के लिए नहीं होना चाहिए। सच ये है कि सावरकर ने दो राष्ट्र का सिद्धांत दिया और जिन्ना ने इसे आगे बढ़ाया।” जयराम रमेश ने सरदार पटेल का जिक्र करते हुए लिखा कि पटेल ने लिखा था कि मुझे लगता है, अगर विभाजन स्वीकार नहीं किया गया तो भारत कई टुकड़ों में बंट जाएगा।”

जयराम रमेश ने श्यामा प्रसाद मुखर्जी का नाम लेते हुए भी बीजेपी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि क्या प्रधानमंत्री आज जनसंघ के संस्थापक श्यामा प्रसाद मुखर्जी को भी याद करेंगे जिन्होंने शरत चंद्र बोस की इच्छा के विपरीत जाकर बंगाल के विभाजन का समर्थन किया था और स्वतंत्र भारत के पहले कैबिनेट में शामिल हुए थे।

जयराम रमेश ने कहा कि देश को बांटने के लिए आधुनिक दौर के सावरकर और जिन्ना का प्रयास आज भी जारी है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस गांधी, नेहरू, पटेल और अन्य नेताओं की विरासत को आगे बढ़ाना जारी रखेगी।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट