ताज़ा खबर
 

‘जुमलेबाजी का नाम मोदी, हिंदुत्व का ब्रांड योगी’, आदित्यनाथ के बंगले के बगल में लगे होर्डिंग पर बवाल

विवादित पोस्टर पर ''योगी लाओ देश बचाओ'', ''जुमलेबाजी का नाम मोदी'' और ''हिन्दुत्व का ब्रांड योगी'' जैसी बातें लिखी हुई थीं। बैनर में सीएम योगी को देश का अलगा पीएम बताया गया है।

UP News, National news, PM Modi, Narendra modi, Yogi Adityanath, Poster, Hindutva, Hindu, जुमलेबाज, जुमलेबाज मोदी, नरेंद्र मोदी, योगी आदित्यनाथ, पोस्टर उत्तर प्रदेश में लगा विवादित पोस्टर (Photo: Local Source)

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को ”जुमलेबाज” दर्शाते हुए होर्डिंग लगाने वाली उत्तर प्रदेश नवनिर्माण सेना के खिलाफ बुधवार को एक मामला दर्ज किया गया। राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ में भाजपा की पराजय के बाद मंगलवार की रात योगी आदित्यनाथ के बंगले के बगल में कुछ विवादित पोस्टर लगाए गए। इन विवादित पोस्टर पर ”योगी लाओ देश बचाओ”, ”जुमलेबाजी का नाम मोदी” और ”हिन्दुत्व का ब्रांड योगी” जैसी बातें लिखी हुई थीं। बैनर में सीएम योगी को देश का अलगा पीएम बताया गया है। साथ ही उन्हें हिंदुत्व का फायर ब्रांड नेता कहा गया है। पोस्टर में नवनिर्माण सेना ने 10 फरवरी 2019 को लखनऊ के रमाबाई आंबेडकर मैदान में धर्म संसद आयोजित करने का भी ऐलान किया है।

मीडिया के माध्यम से इस बारे में खबर दिखाने के बाद प्रशासन हरकत में आयी और तत्काल इसे हटवाया। हाई सिक्योरिटी जोन विक्रमादित्य मार्ग चौराहे पर विवादित बैनर लगने के बाद कई तरह के सवाल उठ रहे हैं। पुलिस के अनुसार, बैनर लगाने वालों की तलाश के लिए सीसीटीवी कैमरों को भी खंगाला गया, जिसमें से अधिकतर खराब निकले। ट्रैफिक एएसपी के पास लगे कैमरे के फुटेज बरामद हुए हैं, लेकिन इस कैमरे का रेंज साफ नहीं होने की वजह से आरोपियों की तस्वीर साफ नहीं दिख रही है।

अपर पुलिस अधीक्षक (पूर्व) सर्वेश कुमार मिश्रा ने बताया, “उत्तर प्रदेश नवनिर्माण सेना के खिलाफ मामला दर्ज कर प्रकरण की जांच की जा रही है। पुलिस का मानना है कि बैनर लगवाने के पीछे उत्तर प्रदेश नवनिर्माण सेना के संगठन अध्यक्ष अमित जानी का नाम सामने आ रहा है। पुलिस सरगर्मी के साथ उसकी तलाश कर रही है।” वहीं, हजरतगंज के सीओ अभय कुमार मिश्रा के अनुसार, यह बैनर लालबाग इलाके के शीला इंटरप्राइजेज प्रिंटिंग प्रेस से छपवाया गया था। प्रेस के मालिक मनीष अग्रवाल के अलावा होर्डिंग लगाने की जिम्मेदारी लेने वाले उन्नाव के सुमित और इकरामुद्दीन को गिरफ्तार कर लिया गया है।

इधर, उत्तर प्रदेश नवनिर्माण सेना के प्रमुख अमित जानी ने एक वीडियो जारी कर योगी की तारीफ की और उन्हें देश का अगला प्रधानमंत्री बनाए जाने की वकालत की। जानी ने कहा, “दस फरवरी को लखनऊ में धर्म संसद कर ऐलान किया जाएगा कि अगर योगी को प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार नहीं बनाया गया तो हिन्दू भाजपा को वोट नहीं देंगे। पांच राज्यों में बीजेपी की हार की वजह पीएम मोदी हैं। जो भी विधायक चुनाव जीते हैं, उसका श्रेय सीएम योगी को जाता है।” भाजपा के एक प्रवक्ता ने इसे सस्ती लोकप्रियता हासिल करने का प्रयास बताया। बता दें कि जानी 2012 में सुर्खियों में आया था जब उसने पूर्व मुख्यमंत्री मायावती की लखनऊ में एक प्रतिमा को कथित तौर पर क्षतिग्रस्त कर दिया था। उस समय उसे गिरफ्तार कर लिया गया था। हालांकि, बाद में वो जमानत पर रिहा हो गया था। (एजेंसी इनपुट के साथ)

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 स्वास्थ्य पर खर्च बढ़ाएगा भारत : प्रधानमंत्री
2 आरटीआइ में संशोधन का सड़क पर विरोध, कानून में बदलाव का संसद में मिलकर विरोध करेंगे कांग्रेस और वाम दल
3 मिशन लोकसभा : विकास के एजंडे पर लौटेगी भाजपा
ये पढ़ा क्या...
X