ताज़ा खबर
 

ट्विटर पर बरखा दत्त से पूछा- आप हिज्बुल कमांडर मूसा के साथ कैसे?

आतंकी बुरहान वानी को सुरक्षा बलों द्वारा ढेर कर दिये जाने के बाद जाकिर मूसा ही हिज्बुल मुजाहिद्दीन का कमांडर बना है और सुरक्षा बलों पर हमला करने की फिराक में लगा है।

BARKHA DUTT, BARKHA DUTT twitter, Hizbul commander Zakir Musa, Hizbul Mujahideen commander Zakir Musa @BDUTT, Viral photo, terrorists, jansatta, Hindi news, latest newsसोशल मीडिया पर इस तस्वीर को लेकर लोग सवाल पूछ रहे हैं। (Source-twitter/@BDUTT)

सोशल साइट ट्विटर पर शेयर की जा रही एक फोटो के जरिये लोग पत्रकार बरखा दत्त पर सवाल उठा रहे हैं। इस फोटो में बरखा दत्त जैसी दिखने वाली महिला एक शख्स के साथ स्कूटर पर बैठी दिख रही है। तस्वीर कब की, कहां ली गई और किसकी है, इस बारे में कुछ स्पष्ट नहीं है। लेकिन तस्वीर पर लोग तरह-तरह के कमेंट कर रहे हैं। संदीप नाम के एक यूजर ने इस तस्वीर को पत्रकार बरखा दत्त को टैग कर लिखा है, ‘क्या ये सही है कि आप हिज्बुल मुजाहिद्दीन कमांडर जाकिर मूसा के साथ देखी गईं हैं आप इन आतंकियों के साथ क्या कर रही हैं?’ पत्रकार बरखा दत्त ने इस ट्वीट पर तंज कसा है और ट्वीट करने वाले को करारा जवाब दिया है। बरखा दत्त ने इस ट्वीट को कोट कर लिखा है कि तुम्हारी फेक न्यूज की फैक्ट्री की रिमोट कंट्रोल किसके पास है। बरखा ने लिखा, ‘ हैलो फेक न्यूज़र्स, तुम्हारी इस फैक्ट्री का रिमोट कंट्रोल किसके पास है।’

बता दें कि आतंकी बुरहान वानी को सुरक्षा बलों द्वारा ढेर कर दिये जाने के बाद जाकिर मूसा ही हिज्बुल मुजाहिद्दीन का कमांडर बना था और वह सुरक्षा बलों पर हमला करने की फिराक में लगा है।  लेकिन इस घटनाक्रम में एक अध्याय तब जुड़ा जब शुक्रवार को आतंकी जाकिर मूसा ने कहा कि अगर हुर्रियत के नेताओं ने कश्मीर मसले को इस्लामिक संघर्ष ना बताकर राजनीतिक कहा तो वो उन नेताओं का सर काटकर कश्मीर के लाल चौक पर टांग देगा। लेकिन हिज्बुल मुजाहिद्दीन ने जाकिर मूसा के इस बयान को समर्थन देने से इंकार कर दिया और कहा कि ये बयान उसका निजी है। हिज्बुल मुजाहिद्दीन के इस बयान के बाद जाकिर मूसा ने इस संगठन से अपने आपको अलग कर लिया था।

बरखा दत्त के इस ट्वीट पर कई लोगों ने प्रतिक्रिया दी है। तबा अजूम नाम के एक यूजर ने लिखा है कि इस तरह का फेक न्यूज फैलाना गलत है, विचारों की लड़ाई सही तरीके से लड़ी जानी चाहिए। अजीत कुमार तिवारी नाम के एक यूजर ने लिखा है कि ये एक सीधा सवाल है जिसका बरखा दत्त को जवाब देना चाहिए, हर वक्त बात को बढ़ाने की जरूरत नहीं होती है। रोहन नाम के यूजर ने लिखा है कि अगर बरखा पर ये आरोप सही है तो उनसे पूछा जाना चाहिए लेकिन अगर ये गलत है तो ऐसा लिखने वाले को जेल होना चाहिए।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 राष्ट्रपति चुनाव: भाजपा के लिए एक-एक वोट कीमती, फिलहाल सदस्यता छोड़ने के मूड में नहीं योगी और पर्रिकर
2 भारत-नेपाल सीमा से हिजबुल मुजाहिदीन का एक आतंकी गिरफ्तार
3 आरटीआई से खुलासा: दाऊद, हाफिज सईद को भारत लाने के लिए जांच एजेंसियों ने अबतक नहीं किया विदेश मंत्रालय से आग्रह
यह पढ़ा क्या?
X