ताज़ा खबर
 

राष्ट्रगान गाकर वीडियोग्राफी नहीं कराई तो मदरसों पर होगी कार्रवाई- बरेली के डीसी ने चेताया

डिविजनल कमिश्नर जगमोहन ने कहा कि मदरसों का मैनेजमेंट करने वाली संस्थाएं कानून के उल्लंघन के लिए जिम्मेदार होंगे।

eid, eid 2017, eid 2017 date, eid 2017 date india, eid 2017 india dateतस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है। (Express Archives Photo)

उत्तर प्रदेश के बरेली के डिविजनल कमिश्नर पीवी जगमोहन ने सोमवार (14 अगस्त) को कहा कि जो मदरसे राष्ट्रगान की वीडियो रिकॉर्डिंग नहीं करवाएंगे उनके खिलाफ प्रशासन “कानूनी कार्रवाई” करेगा। टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार जगमोहन ने कहा कि हम पहले भारतीय हैं और हमारे धर्म और जाति उसके बाद आते हैं। अगर कोई व्यक्ति अपने घर, मस्जिद या मंदिर में राष्ट्रगान गाने से मना करता है तो किसी को उसमें दखल देने का हक नहीं लेकिन शैक्षणिक संस्थाएं सार्वजनिक स्थल माने जाते हैं इसलिए हम मदरसों में सरकार के आदेश को पूरी तरह लागू करेंगे और अगर किसी ने इसका खुला उल्लंघन किया तो हम कानूनी कार्रवाई करेंगे। कमिश्नर ने कहा कि प्रशासन तभी कार्रवाई करेगा जब उसे आदेश के उल्लंघन के सबूत मिलेंगे।

हालांकि कमिश्नर ने ये स्पष्ट नहीं किया कि मदरसों में राष्ट्रगान की वीडियो रिकॉर्डिंग न करवानों पर किसी धारा के तहत कार्रवाई की जाएगी। इस पर कमिश्नर जगमोहन ने कहा कि हमारे देश में बहुत से कानून हैं और उचित धारा के तहत आदेश का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करेंगे लेकिन ये मानना जल्दबाजी है कि मदरसों में सरकार के आदेश का पालन नहीं होगा। कमिश्नर जगमोहन ने कहा कि मदरसों का मैनेजमेंट करने वाली संस्थाएं कानून के उल्लंघन के लिए जिम्मेदार होंगे।

टीओआई की रिपोर्ट के अनुसार पीलीभीत के अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी देवेंद्र कुमार ने भी कहा कि इस आदेश का उल्लंघन करने वालों को चिह्नित करके उनके खिलाफ कार्रवाई सुनिश्चित करवाई जाएगी। देवेंद्र कुमार ने कहा कि हालांकि इस मामले में विभाग लोगों की शिकायतों पर निर्भर रहेगा और उसके बाद वो अपनी रिपोर्ट राज्य सरकार को भेजेगा। बरेली के डीएम आर विक्रम सिंह एक बयान जारी करके साफ किया कि किसी भी व्यक्ति को राष्ट्रगान गाने या पढ़ने से रोकना या रोकने के लिए कहना सीआरपीसी की धारा 144 के तहत अपराध है। डीएम विक्रम ने बयान जमात-रजा-ए-मुस्तफा नामक संगठन के उस अपील के बाद जारी किया जिसमें लोगों से स्वतंत्रता दिवस पर मदरसों में राष्ट्रगान न गाने के कहा था।

<blockquote class=”twitter-tweet” data-lang=”en”><p lang=”en” dir=”ltr”>UP: A Madrasa in Bareilly celebrates <a href=”https://twitter.com/hashtag/IndependenceDay?src=hash”>#IndependenceDay</a> <a href=”https://t.co/6hEoK4qg57″>pic.twitter.com/6hEoK4qg57</a></p>&mdash; ANI UP (@ANINewsUP) <a href=”https://twitter.com/ANINewsUP/status/897291856936972288″>August 15, 2017</a></blockquote>
<script async src=”//platform.twitter.com/widgets.js” charset=”utf-8″></script>

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 भाषण में बोले PM नरेंद्र मोदी, आस्था के नाम पर हिंसा बर्दाश्त नहीं, J&K का हल गोली या गाली नहीं
2 Independence day 2017: पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा अब तो आवाज यही उठे बदलता है, बदल रहा है, बदल सकता है
3 देश- 70 सालों के बाद आर्थिक उड़ान में पीछे छूटी विषमता हटाओ मुहिम
यह पढ़ा क्या?
X