ताज़ा खबर
 

डरे बैंक, सरकार से लगाई गुहार- अभी मत हटाइए 2500 और 24 हजार रुपए निकालने की लिमिट

बैंकों ने सरकार से गुहार लगाई है कि कैश निकालने पर लगी पाबंदी को 30 दिसंबर के बाद तबतक ना हटाया जाए जबतक बैंकों के पास पर्याप्त मात्रा में कैश ना आ जाए।

तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

बैंकों ने सरकार से गुहार लगाई है कि कैश निकालने पर लगी पाबंदी को 30 दिसंबर के बाद तबतक ना हटाया जाए जबतक बैंकों के पास पर्याप्त मात्रा में कैश ना आ जाए। दरअसल, नोटबंदी के बाद सरकार और रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने लोगों के पैसे निकालने पर पाबंदी लगा रखी हैं। फिलहाल कोई शख्स एटीएम से प्रतिदिन 2500 रुपए और बैंक से हफ्ते में 24000 रुपए निकाल सकता है। माना जा रहा है कि सरकार शुक्रवार को लगी हुई पाबंदी पर कोई फैसला ले सकती है। इसको लेकर बैंकों ने चिंता जाहिर की है। बैंकों का मानना है अगर पाबंदी को हटा लिया गया तो लोग ज्यादा मात्रा में पैसा निकालकर जमा कर लेंगे जिससे बैंकों के पास कैश की किल्लत ज्यादा हो सकती है।

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के वरिष्ठ कार्यकारी ने कहा, ‘लगी पाबंदी को तब ही हटाना चाहिए जब बैंकों के पास पर्याप्त मात्रा में कैश आ जाए। क्योंकि जैसे ही पाबंदी हटेगी सभी लोग ज्यादा पैसा निकालना चाहेंगे। इससे परेशानी खड़ी हो सकती है।’ वहीं इंडियन बैंक एसोसिएशन (IBA) नाम की संस्था जो कि प्राइवेट और सरकारी बैंकों का प्रतिनिधित्व करती है उसने बताया कि सरकार को लिखित रूप में कुछ नहीं कहा गया है लेकिन पांबदी ना हटाने के लिए कहा जरूर गया है।

वित्त मंत्रालय की मानें तो 30 दिसंबर तक कुल 50 प्रतिशत नए नोट ही लोगों के बीच पहुंच पाएंगे। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने दस दिसंबर को बताया था कि उसके पास 12.44 करोड़ के बंद हुए नोट जमा हो चुके हैं। कुल 15 लाख करोड़ रुपए के 500-1000 के नोट बंद हुए थे।

इस वक्त की बाकी ताजा खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें 

देखिए संबंधित वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App