ताज़ा खबर
 

बांग्लादेशी मदरसों में चल रहा घिनौना खेल! पीड़ितों का खुलासा- सात साल की उम्र में हुए थे रेप का शिकार

फेसबुक पोस्ट के जरिए कई पूर्व छात्रों ने टीचरों पर यौन शोषण के आरोप लगाए हैं। छात्र अब खुलकर मदरसों में चल रहे इस खेल के खिलाफ अपनी आवाज उठा रहे हैं।

mosqueतस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (एक्सप्रेस फोटो)

बांग्लादेश के मदरसों में यौन शोषण का घिनौना खेल चल रहा है। मदरसों में छात्रों का रेप किया जाता है। बांग्लादेश के कई पूर्व छात्रों सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल कर पूरी दुनिया के सामने यह चौंकाने वाली बात रख रहे हैं। फेसबुक पोस्ट के जरिए कई पूर्व छात्रों ने टीचरों पर यौन शोषण के आरोप लगाए हैं। मुस्लिम बहुल बांग्लादेश में बच्चों के साथ यौन शोषण के मामलों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है जो पिछले काफी समय से चर्चा का विषय हैं। लोग अब खुलकर मदरसों में चल रहे इस खेल के खिलाफ अपनी आवाज उठा रहे हैं।

हाल में 19 वर्षीय नुसरत जहां रफी का फेनी स्थित स्कूल में हेडमास्टर ने रेप कर दिया था। जिसके बाद लड़की ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई। हेडमास्टर ने उस पर शिकायत वापस लेने का दबाव बनाया जब लड़की नहीं मानी तो उसे आग के हवाले कर मौत के घाट उतार दिया गया। इस भयावह घटना के बाद लोग अपनी आवाज तेजी से उठा रहे हैं।

राजधानी ढाका के तीन मदरसों में पढ़ चुके होजैफा अल ममदूह ने भी मदरसों में छात्रों के हालातों पर चिंता वयक्त की है। उन्होंने जुलाई महीने में फेसबुक पोस्ट में लिखा है कि मदरसों में शोषण बड़े स्तर पर होता है और सभी छात्रों को इसकी जानकारी है। मैं मदरसों में पढ़ाने वाले कई शिक्षकों को जानता हूं जो बच्चों के यौन उत्पीड़न को महिलाओं की रजामंदी से विवाहेतर यौन संबंधों से कम बड़ा अपराध मानते है।’

उनकी इस पोस्ट के बाद जमकर बहस छिड़ गई और उन्हें जाने से मारने तक की धमकी दी जा रही है। लेकिन उनकी इस पोस्ट के बाद अन्य छात्रों में हिम्मत जगी है। छात्र अपने खिलाफ हुए यौन शोषण के खिलाफ आवाज उठा रहे हैं। इसी क्रम में एक नारीवादी वेबसाइट पर अपनी कहानी प्रकाशित कराने वाले मोस्ताकिम्बिल्लाह मासूम ने कहा कि वह जब सात साल के थे, तब उनका पहली बार रेप एक वरिष्ठ छात्र ने किया।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 दिल्ली का प्रभार नहीं ढोना चाहते पीसी चाको, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया से की गुजारिश
2 मिसाइल के मामले में भारत के आगे बौना है पाकिस्तान, जानिए कितना कमजोर है दुश्मन
3 INX Media case: चिदंबरम की गिरफ्तारी से खुश है इंद्राणी मुखर्जी, बोली- अच्छी ख़बर है
ये पढ़ा क्या?
X