scorecardresearch

BHU में अब वाल पेटिंग राइटिंग को लेकर विवाद, विवि प्रशासन ने दर्ज कराई FIR, उधर बीजेपी पर महबूबा ने कही ये बात

इस विवाद पर बीएचयू के जनसंपर्क अधिकारी राजेश सिंह ने बताया कि दीवार पर आपत्तिजनक नारे लिखने को लेकर अज्ञात लोगों के खिलाफ लंका पुलिस स्टेशन में प्राथमिकी दर्ज की गई है।

BHU, UP news
इस विवाद में अज्ञात लोगों के खिलाफ लंका पुलिस स्टेशन में प्राथमिकी दर्ज की गई है(फोटो सोर्स:Express Photo by Vishal Srivastav/फाइल)।

बनारस हिंदू विश्वविद्यालय में इफ्तार पार्टी के बाद शुरू हुआ विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। बता दें कि बीएचयू में गर्ल्स हॉस्टल द्वारा आयोजित इफ्तार पार्टी में कुलपति सुधीर कुमार जैन के भाग लेने के अगले दिन विश्वविद्यालय परिसर की दीवार पर ‘आपत्तिजनक’ संदेश लिखे गये। जिसके बाद मामले ने और तूल पकड़ लिया।

इस मुद्दे को लेकर शनिवार को परिसर में धरना प्रदर्शन भी किया गया। वहीं विश्वविद्यालय प्रशासन ने इस मामले में “अज्ञात” लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है। बीएचयू के छात्रों के मुताबिक 27 अप्रैल की रात एक हॉस्टल के बाहर दीवारों पर आपत्तिजनक नारे लिखे गए थे।

द इंडियन एक्सप्रेस ने सूत्रों के हवाले से लिखा है कि दीवारों पर ”ब्राह्मणों के खिलाफ” नारे लिखे हुए थे। जिसके बाद से मामला काफी गंभीर होता जा रहा है। इस पूरे में मामले के बीच वामपंथी छात्र संगठन भगत सिंह छात्र मोर्चा (बीसीएम) ने विश्वविद्यालय के मुख्य प्रॉक्टर से शिकायत की है।

बीसीएम का कहना है कि संगठन को बदनाम करने के विवादित नारे के साथ उनके संगठन का नाम जानबूझकर लिखा गया। बीसीएम सचिव अनुपम कुमार ने आरोप लगाया कि जिन लोगों ने अंबेडकर जयंती मनाने के लिए पहले अपने कार्यकर्ताओं के साथ मारपीट की थी, वे इस मामले के पीछे थे।

वहीं एबीवीपी बीएचयू कैंपस सचिव पुनीत मिश्रा ने कहा कि दीवार पर लिखे गये नारों के खिलाफ प्रदर्शन में भाग लेने वाले छात्र किसी भी छात्र संगठन का हिस्सा नहीं थे। मिश्रा ने आरोप लगाया कि भगत सिंह छात्र मोर्चा समर्थक दीवार पर विवादित संदेश लिखने में शामिल थे। मिश्रा ने वामपंथी संगठन के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

FIR दर्ज: इस विवाद पर बीएचयू के जनसंपर्क अधिकारी राजेश सिंह ने बताया कि दीवार पर आपत्तिजनक नारे लिखने को लेकर अज्ञात लोगों के खिलाफ लंका पुलिस स्टेशन में प्राथमिकी दर्ज की गई है। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय इस स्थिति पर नजर रखे हुए है। परिसर में शैक्षणिक माहौल खराब करने वालों की पहचान कर कार्रवाई की जाएगी।

महबूबा मुफ्ती ने भाजपा पर क्या कहा: इस तरह के मामलों को लेकर जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने कहा कि देश के मुसलमान भाजपा और उसके उग्रवादी राजनीतिक हथियारों के हमले का सामना कर रहे हैं। उन्होंने कश्मीर और भारत के अन्य हिस्सों में मुस्लिमों द्वारा दिखाए जा रहे “धैर्य” को सलाम किया है।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.