ताज़ा खबर
 

कठुआ रेप मामले से चर्चा में आए एक्टिविस्ट पर बलात्कार का एक और आरोप

हुसैन हाल ही में वह दो महीने जेल में बिताकर जमानत पर बाहर आए हैं। कारण- हुसैन की पत्नी की रिश्तेदार ने उन पर इससे पहले बलात्कार के आरोप लगाए थे।

Author Updated: October 21, 2018 11:24 AM
kathua rape, kathua rape case, kathua rape case lawyers, kathua rape case activists, barkerwal activist, Bakerwal Activist Talib Hussain, metoo, jansatta, india news, national newsतालिब हुसैन हाल ही एक अन्य रेप के मामले में दो महीने जेल में बिताकर बेल पर आए हैं। (फाइल फोटो)

जम्मू-कश्मीर के कठुआ रेप मामले से चर्चा में आए एक्टिविस्ट तालिब हुसैन की मुश्किलें बढ़ गई हैं। अब उन पर एक और बलात्कार का आरोप लगा है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह आरोप जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) की छात्रा ने लगाया है। ‘फर्स्टपोस्ट’ पर शनिवार (20 अक्टूबर) को एक गुनमाम अकाउंट से आरोप लगाते हुए लिखा गया, “कठुआ रेप मामले के दौरान विरोध प्रदर्शनों का नेतृत्व करने वाले शख्स ने मेरे साथ रेप किया।” हालांकि, पीड़िता ने कहीं भी हुसैन का नाम नहीं, पर उसका इशारा उन्हीं की ओर है।

हुसैन मूलरूप से बकरवाल समुदाय से ताल्लुक रखते हैं। हाल ही में वह दो महीने जेल में बिताकर जमानत पर बाहर आए हैं। कारण- हुसैन की पत्नी की रिश्तेदार ने उन पर इससे पहले बलात्कार के आरोप लगाए थे। याद दिला दें कि हुसैन ने कठुआ में मासूम के रेप और हत्या के बाद कई विरोध प्रदर्शन आयोजित कराए थे। वह उसी दौरान सुर्खियों में आए। बाद में उन पर हमला भी हुआ, जिसके बाद सुप्रीम कोर्ट की ओर से उन्हें सुरक्षा मुहैया कराई गई थी।

ताजा आरोप के बाद सुप्रीम कोर्ट में वरिष्ठ वकील इंदिरा जयसिंह ने भी ऐलान किया कि वह हुसैन के मामले में अब पैरवी नहीं करेंगी। #MeToo अभियान के अंतर्गत उन्होंने यह फैसला लिया है। जयसिंह ने इस बाबत पब्लिक स्टेटमेंट जारी किया, जिसमें कहा गया, “पीड़िता ने रेप करने वाले का नाम नहीं लिया पर साफ है वह किधर इशारा कर रही है। केस लेने के बाद कोई भी वकील उसे छोड़ता नहीं है। पर लेख में जो बातें लिखी हैं, वे उनके (हुसैन) केस से हटने के लिए काफी हैं।”

उधर, जेएनयूएसयू की पूर्व उपाध्यक्ष शहला राशिद ने एक अंग्रेजी अखबार से इस बारे में कहा, “मैं पीड़ित को नहीं नहीं जानती। पर लेख में जो आरोप लगे, वे बेहद गंभीर हैं। पुलिस को उनका संज्ञान लेते हुए कार्रवाई करनी चाहिए। हम (जेएनयू छात्र) उसकी हर संभव मदद के लिए खड़े हैं।”

Next Stories
1 केरल के पूर्व सीएम ओमान चांडी पर अप्राकृतिक दुष्कर्म का आरोप, क्राइम ब्रांच में केस दर्ज
2 साल में दूसरी बार लाल किले से नरेंद्र मोदी ने फहराया तिरंगा, बोले- दुश्मनों को दोगुनी ताकत से देंगे जवाब
3 Amritsar Train Accident: रावण का रोल करने वाले ने बचाईं 8 जिंदगियां, खुद को नहीं बचा सका
ये पढ़ा क्या?
X