ताज़ा खबर
 

कोरोना: आईपीएल से घर पहुँचते ही नहाया, पीपीई किट पहना और अस्पताल भागा राजस्थान रॉयल्स का यह खिलाड़ी

आईपीएल 2021 में राजस्थान रॉयल्स का प्रतिनिधित्व करने वाले सकरिया ने 'द इंडियन एक्सप्रेस' को बताया कि "मैं बहुत भाग्यशाली हूं, कुछ दिन पहले ही राजस्थान रॉयल्स ने मुझे मेरी फीस दी है। मैंने सीधे वह पैसा घर ट्रांसफर कर दिया। जिससे मेरे परिवार की इस कठिन वक़्त पर मदद हो रही है।"

चेतन सकारिया ने IPL 2021 में राजस्थान रॉयल्स के लिए खेलते हुए बेहतरीन प्रदर्शन किया। (source: PTI)

गुजरात के भावनगर जिले के वर्त्ज में रहने वाले राजस्थान रॉयल्स के बाएं हाथ के तेज गेंदबाज चेतन सकारिया ने आईपीएल से घर पहुँचते ही नहाया, पीपीई किट पहनी और पास के अस्पताल में चले गए। जहां उनके पिता कांजीभाई को कोरोना से संक्रमित होने के बाद भर्ती कराया गया है।

सकारिया को पिछले सप्ताह फोन आया था कि उनके पिता को कोविड पॉज़िटिव पाया गया है और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। आईपीएल 2021 में राजस्थान रॉयल्स का प्रतिनिधित्व करने वाले सकरिया ने ‘द इंडियन एक्सप्रेस’ को बताया कि “मैं बहुत भाग्यशाली हूं, कुछ दिन पहले ही राजस्थान रॉयल्स ने मुझे मेरी फीस दी है। मैंने सीधे वह पैसा घर ट्रांसफर कर दिया। जिससे मेरे परिवार की इस कठिन वक़्त पर मदद हो रही है।”

चेतन के पिता कांजीभाई एक टैंपो चलते हैं। सकरिया जैसे घरेलू खिलाड़ियों के लिए, आईपीएल से कमाया हुआ पैसा ही आजीविका का साधन है। सकरिया ने कहा ” लोग कह रहे हैं कि आईपीएल बंद करो, मैं उन्हें कुछ बताना चाहता हूं, मैं अपने परिवार में एकमात्र कामने वाला इंसान हूँ। क्रिकेट मेरी कमाई का एकमात्र स्रोत है। मैं अपने पिता को आईपीएल से मिले पैसे की वजह से बेहतर इलाज दे सकता हूं। अगर यह टूर्नामेंट एक महीने के लिए नहीं होता, तो यह मेरे लिए बेहद मुश्किल हो जाता। मैं एक बेहद गरीब परिवार से आता हूं। मेरे पिता ने सारी जिंदगी टेम्पो चलाया और आईपीएल की वजह से मेरी पूरी जिंदगी बदलने वाली थी। ‘

जब वे घर चेतन घर आए हैं वे अस्पताल के चक्कर काट रहे हैं। सुबह 9 बजे से दोपहर 2 बजे तक, वह अस्पताल की बेंच पर बैठे रहते है। सकरिया विशेष रूप से चिंतित हैं क्योंकि उनके पिता मधुमेह के रोगी हैं। इस साल जनवरी में आईपीएल औकसन में चेतन जैसे ही करोड़पति बने उसी दौरान उनके भाई ने आत्महत्या कर ली थी।

जब उनके भाई ने यह कदम उठाया उस वक़्त चेतन सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में खेल रहे थे, और उन्हें इस बारे में कुछ नहीं पता था। वहीं, जब चेतन घर वापस आए, तब भी उसके कई दिनों बाद उनके परिवार वालों ने उन्हें इस बारे में बताया था। चेतन कहते हैं कि अगर आज उनके भाई साथ होते तो, उन्हें काफी खुशी होती। चेतन के साथ जो हुआ उसका दर्द वो और उनके घरवालों के अलावा कोई नहीं समझ सकता है।

सकारिया ने अपने कौशल और क्षमता से आईपीएल 2021 को प्रभावित किया। उन्होंने शानदार प्रदर्शन करते हुए सात विकेट लिए। चेतन ने याद कर बताया कि जब “संजू भाई (संजू सैमसन) ने आकर मुझे बताया कि मैनेजमेंट मुझे पर भरोसा करता है और अच्छे प्रदर्शन कि उम्मीद कर रहा है। इसलिए तैयार रहें, आप खेल रहे हैं। मुझे उस रात नींद नहीं आई, मैं सोचता रहा कि मैं कैसे गेंदबाजी करूंगा, मैं विकेट कैसे लूँगा, ऐसे गेंद डालूँगा या वैसे डालूम कुछ समझ नहीं आ रहा था।

Next Stories
1 PM ने कोरोना संकट पर CM को लगाया फोन, कॉल के बाद बोले सोरेन- बेहतर होता कि “काम की बात” भी करते और सुनते
2 शताब्दी और दुरंतो समेत कई एक्सप्रेस ट्रेनें रद्द, रेलवे ने कहा कोरोना की वजह से नहीं मिल रहे यात्री
3 रोहतक के गांव में 1 दिन में जलीं 11 चिताएं, 10 दिन में 40 ने तोड़ा दम
यह पढ़ा क्या?
X