Babul Supriyo wants Rahat Fateh Ali Khan’s voice removed from Ishtehaar song - केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो बोले- गाने से हटाओ राहत फतेह अली खान की आवाज, बैन करो पाकिस्तानी कलाकार - Jansatta
ताज़ा खबर
 

केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो बोले- गाने से हटाओ राहत फतेह अली खान की आवाज, बैन करो पाकिस्तानी कलाकार

बाबुल सुप्रियों ने शनिवार को कहा, 'मैं समझ नहीं पा रहा हूं कि जब भारत-पाक के बीच तनाव बढ़ा हुआ है, तो हम सीमा पार टैलेंट क्यों ढूंढ रहे हैं। ऐसा नहीं होना चाहिए कि एफएम पर पाकिस्तानी गायकों के गाने चलें और समाचार चैनलों पर पाकिस्तानी हमले में शहीद जवानों के।’

केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो।

बॉलीवुड प्लेबैक सिंगर से केंद्रीय मंत्री मंत्री बने बाबुल सुप्रियो ने एक बार फिर से पाकिस्तानी कलाकरों पर बैन के मुद्दे को उठाया है। पश्चिम बंगाल के आसनसोल से बीजेपी सांसद बाबुल सुप्रियो ने शनिवार को कहा कि राष्ट्र के प्रति अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए बॉलीवुड पाकिस्तानी कलाकारों को बैन करे। बाबुल सुप्रियों ने कहा कि पाकिस्तानी कलाकारों का पाकिस्तानी होना ही उनका अपराध है इसलिए उनसे बॉलीवुड को किसी भी तरह का संबंध नहीं रखना चाहिए। इसके साथ ही बाबुल सुप्रियो ने फिल्म ‘वेलकम टू न्यूयॉर्क’ के निर्माताओं से इसके गाने ‘इश्तेहार’ से पाकिस्तानी गायक राहत फतेह अली खान की आवाज हटाने की मांग भी की है। आपको बतां दें कि अभिनेता सलमान खान ने फिल्म “टाइगर जिंदा है’ के दिल दियां गल्ला गाने से अरिजीत सिंह की आवाज हटवा कर आतिफ असलम से गाना गवाया थ। अब इस बात की चर्चा है कि ‘वेलकम टू न्यूयॉर्क’ में भी ऐसा हो रहा है।

बाबुल सुप्रियों ने शनिवार को कहा, ‘मैं समझ नहीं पा रहा हूं कि जब भारत-पाक के बीच तनाव बढ़ा हुआ है, तो हम सीमा पार टैलेंट क्यों ढूंढ रहे हैं। ऐसा नहीं होना चाहिए कि एफएम पर पाकिस्तानी गायकों के गाने चलें और समाचार चैनलों पर पाकिस्तानी हमले में शहीद जवानों के।’  उन्होंने कहा, ‘मुझे आतिफ असलम या राहत से कोई परेशानी नहीं है। परेशानी है उनकी नागरिकता से। बॉलीवुड दुनियाभर में भारत का प्रतिनिधित्व करता है। पाक कलाकारों को बैन कर दुनियाभर में पाकिस्तान द्वारा फैलाए जा रहे आतंकवाद का विरोध करना चाहिए। बॉलीवुड से शोहरत पाने वाले किसी भी पाकिस्तानी कलाकार ने भारत में हमलों को लेकर अपने देश की निंदा नहीं की है।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App