ताज़ा खबर
 

टीवी ऐड में पिछड़े Cadbury, Parle और Horlicks, सात दिन में टॉप पर आई रामदेव की Patanjali

पतंजलि सात प्रॉडक्‍ट घी, शैम्‍पू, बिस्किट, नूडल्‍स, शहद, टूथपेस्‍ट और अलो वेरा क्रीम के सबसे ज्‍यादा विज्ञापन कर रही है।

योग गुरु बाबा रामदेव।

बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि आयुर्वेद देश की सबसे बड़ी एफएमसीजी एडवर्टाइजर कंपनी बनने का रूतबा भी हासिल कर लिया। 23 से 29 जनवरी के बीच कंपनी ने टीवी विज्ञापनों की संख्‍या के मामले में कैडबरी, पार्ले और पॉन्‍डस जैसे दिग्‍गज ब्रांड को भी पछाड़ दिया। ब्रॉडकास्‍ट ऑडियंस रिसर्च कॉउंसिल(बार्क) के अनुसार 23 से 29 जनवरी के बीच पतंजलि के विज्ञापन टीवी पर 17 हजार से ज्‍यादा बार प्रसारित किए गए। दूसरे नंबर पर कैडबरी रहा जिसके विज्ञापन लगभग 16 हजार बार टीवी पर आए।

कौन कितनी बार दिखा
पतंजलि – 17676
कैडबरी – 16985
पार्ले – 15573
हॉर्लिक्‍स – 15495
पॉन्‍ड्स – 13495
फेयर एंड लवली – 13178

दो महीने में टॉप पर आई पतंजलि: बार्क लगभग 450 चैनलों पर निगरानी रखता है। इसके बाद उसने यह आंकड़ें जारी किए हैं। 23-29 जनवरी से पहले वाले सप्‍ताह में पतंजलि टीवी विज्ञापन के मामले में छठे पायदान पर था। यानि 7 दिन बाद कंपनी टीवी विज्ञापन के मामले में टॉप पर आ गई। वहीं पिछले साल नवंबर के बाद से ही पतंजलि टॉप 10 में शामिल हुई है। पतंजलि सात प्रॉडक्‍ट घी, शैम्‍पू, बिस्किट, नूडल्‍स, शहद, टूथपेस्‍ट और अलो वेरा क्रीम के सबसे ज्‍यादा विज्ञापन कर रही है। कंपनी का कहना है आने वाले समय में वह सात और उत्‍पादों के विज्ञापन जारी करेगी। इससे टीवी पर दिखने की संख्‍या में बढ़ोत्‍तरी होगी।

Read Also: राम रहीम का MSG देगा रामदेव के Patanjali को टक्‍कर, 5 तरह की चीनी समेत 151 प्रॉडक्‍ट लॉन्‍च

पतंजलि को 5000 करोड़ रुपये के टर्नओवर की उम्‍मीद: पतंजलि अगले 5 से 7 साल में 5000 से 10 हजार करोड़ रुपये का मुनाफा कमाने की उम्‍मीद कर रही है। बताया जा रहा है कि कंपनी विज्ञापनों पर 300 करोड़ रुपये खर्च करेगी। हालांकि कंपनी ने इस राशि के बारे में न तो हामी भरी और न ही इसे नकारा। पतंजलि ने पिछले वित्‍तीय वर्ष में 2000 करोड़ के टर्नओवर की जानकारी दी। 2015-16 वित्‍तीय वर्ष में वह 5000 करोड़ के टर्नओवर की उम्‍मीद कर रही है।

Read Alsoरामदेव: MNC कर रही है पतंजलि के खिलाफ साजिश

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App