ताज़ा खबर
 

बाबा रामदेव कब लेंगे कोरोना वैक्सीन? बताया क्यों नहीं लगवा रहे हैं टीका

बाबा रामदेव ने कहा कि वे जब ये कहते हैं कि वैक्सीन की डबल डोज लेने के बाद भी कई स्वास्थ्य कर्मियों और फ्रंटलाइन्स वर्कर्स की मौत हो गई तो इसपर विवाद हो जाता है। यदि वे लोग वैक्सीन की डबल डोज के साथ योग-आयुर्वेद की भी डबल डोज लेते तो उनकी मौत ना होती।

बाबा रामदेव ने एक टीवी चैनल पर आयोजित कार्यक्रम में कहा कि जब सब का टीकाकरण हो जाएगा तो वो भी टीका लगाएंगे।(एक्सप्रेस फोटो: प्रेम नाथ पांडेय)

एलोपैथी डॉक्टरों को लेकर दिए गए विवादित बयान को लेकर योग गुरु बाबा रामदेव आज कल सुर्ख़ियों में बने हुए हैं। एक टीवी डिबेट के दौरान जब बाबा रामदेव से यह पूछा गया कि आप कब वैक्सीन लेंगे और आपने अभी तक टीका क्यों नहीं लगाया है। तो इसके जवाब में बाबा रामदेव ने कहा कि जब सभी लोग टीकाकरण करा ले लेंगे, फिर उसके बाद वो भी वैक्सीन की डोज ले लेंगे।

दरअसल टीवी 9 भारतवर्ष पर आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान एंकर ने बाबा रामदेव से कहा कि आप कहते हैं कि मैं वैक्सीन नहीं लगाऊंगा क्योंकि मेरे अंदर आयुर्वेद और योग की शक्ति है। अगर आप ऐसा कहेंगे तो आपके चाहने वालों पर क्या असर होगा। इसके जवाब में बाबा रामदेव ने कहा कि मैं तो ये कहता हूं कि वैक्सीन की डबल डोज और योग-आयुर्वेद की भी डबल डोज लो. ऐसा सुरक्षाचक्र तैयार कर लो कि उसको कोई नहीं भेद सके। 

आगे बाबा रामदेव ने कहा कि मैं जब ये कहता हूं कि वैक्सीन की डबल डोज लेने के बाद भी कई स्वास्थ्य कर्मियों और फ्रंटलाइन्स वर्कर्स की मौत हो गई तो इसपर विवाद हो जाता है। यदि वे लोग वैक्सीन की डबल डोज के साथ योग-आयुर्वेद की भी डबल डोज लेते तो उनकी मौत ना होती। आगे वैक्सीन लेने के सवाल पर बाबा रामदेव ने कहा कि जब सब का टीकाकरण हो जाएगा तो वो भी टीका लगाएंगे। पहले बीमार, बूढ़े-बुजुर्ग और बच्चे टीका लगवा लें, उसके बाद वो भी टीका लगवा लेंगे क्योंकि वो स्वस्थ हैं। साथ ही रामदेव ने कहा कि उन्होंने कभी ऐसा बयान नहीं दिया कि वो टीकाकरण नहीं कराएंगे बल्कि उन्होंने ये कहा कि वो सबसे अंत में टीका लगवाएंगे।

टीवी कार्यक्रम में बाबा रामदेव ने यह भी कहा कि उनके वैक्सीनेशन कराते ही लोग यह प्रश्न करेंगे कि बाबा का योग हुआ बेनकाब..बाबा का योग हुआ फिसड्डी..लोग ऐसे ही ब्रेकिंग न्यूज बनाएंगे। मैंने टीकाकरण की अंतिम सूची में अपना नाम लिखवाया है। अंतिम पंक्ति में खड़ा होना कोई गलत बात है क्या? एक योगी के अंदर इतना धीरज होना चाहिए कि पहले सब करवा लें फिर उसके बाद वो करवा लेंगे। इसलिए सबको टीकाकरण करवाना चाहिए।

बता दें कि पिछले दिनों बाबा रामदेव ने विवादित बयान देते हुए एलोपैथी को स्टुपिड और दिवालिया साइंस बता दिया था। बाबा रामदेव के इन बयानों पर इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने कड़ी आपत्ति जताई थी। बाद में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन के कहने पर बाबा रामदेव ने अपने बयान को वापस ले लिया था। हालांकि बाद में बाबा रामदेव ने कोरोनाकाल में डॉक्टरों की मौत से जुड़ा एक और विवादास्पद बयान दिया था। बाबा रामदेव के इस बयान पर इंडियन मेडिकल एसोसिएशन की उत्तराखंड शाखा ने कड़ी आपत्ति जताई थी और 1000 करोड़ का मानहानि नोटिस भी भेजा था।

Next Stories
1 लखनऊ के बाद अन्य एयरपोर्ट के चार्ज 10 गुना करने की तैयारी में अडानी, कराइकल पोर्ट भी कर सकते हैं अधिग्रहित
2 ममता सरकार के पूर्व चीफ सेक्रेटेरी पर मोदी सरकार का फैसला सही नहीं- पूर्व कैबिनेट व गृह सचिव ने कहा
3 रामदेव ने किया दावा, एक हफ्ते में ब्लैक फंगस का भी दे दूंगा इलाज, काम फाइनल स्टेज में
यह पढ़ा क्या?
X