ताज़ा खबर
 

Patanjali के 83 स्टाफ को हुआ कोरोना? बाबा रामदेव बोले- यह अफवाह

बाबा रामदेव के प्रवक्ता एसके तिजारावाला ने पतंजलि के संस्थानों में कर्मियों के पॉजिटिव होने की खबरों को झूठा करार दिया।

Author Edited By कीर्तिवर्धन मिश्र हरिद्वार | Updated: April 24, 2021 12:21 PM
Baba Ramdev. Coronilबाबा रामदेव ने कोरोना महमारी शुरू होने के बाद कोरोनिल लॉन्च करने के बाद कहा था कि यह कोरोना से लड़ने में प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है। (फोटो- PTI)

उत्तराखंड के हरिद्वार में कुंभ मेला शुरू होने के बाद से ही कोरोना संक्रमितों के मामले में जबरदस्त इजाफा हुआ है। इस बीच खबर है कि यहां योगगुरु बाबा रामदेव के संस्थानों में भी कोरोना संक्रमण फैल गया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, अब तक पतंजलि आयुर्वेद की अलग-अलग इकाईयों में काम करने वाले 83 स्टाफ के सदस्य संक्रमित पाए गए हैं। हालांकि, बाबा रामदेव के प्रवक्ता ने इन खबरों को नकार दिया है।

मीडिया में चल रही खबरों के मुताबिक, पतंजलि के संस्थानों में संक्रमण फैलने की बात खुद हरिद्वार के सीएमओ ने बताई है। उन्होंने एक मीडिया समूह को बताया कि हालिया समय में पतंजलि के 83 लोग संक्रमित मिले हैं। इनमें 46 पतंजलि योगपीठ, 28 योग ग्राम और 9 संक्रमित आचार्यकुलम में मिले हैं। इससे पहले भी 1-2 केस इन संस्थानों से आते रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग के साथ पॉजिटिव पाए जाने वाले लोगों को आइसोलेट कर रहा है। बताया गया है कि जरूरत पड़ने पर बाबा रामदेव का कोरोना टेस्ट भी किया जा सकता है।

सोशल मीडिया यूजर्स ने कसा तंज: इस मामले के सामने आने के बाद से ही सोशल मीडिया पर लोग रामदेव और कोरोना महामारी के बीच उतारे गए उनके उत्पाद कोरोनिल पर तंज कस रहे हैं। पत्रकार दीप्तिमान तिवारी ने इस मामले के खुलासे के बाद लिखा, “WHO प्रमाणित कोरोनिल खत्म हो गई थी क्या? मैं उनके जल्दी ठीक होने की कामना करता हूं।” जगत पासी नाम के एक और यूजर ने लिखा, “ओह ये तो दुखद है। उम्मीद है कोरोनिल उन पर काम करेगा।”

वहीं लेखक और पत्रकार वीर सांघवी ने लिखा, “लगता है कोरोनिल काम नहीं आई।” ट्विटर हैंडल @rvelichapat ने लिखा, “बेचारे कर्मचारियों को कोरोनिल नहीं दी गई। बाबा को अपने कर्मियों का ख्याल रखना चाहिए।”

एक अन्य यूजर पलाश चटर्जी ने कहा, “लाला रामदेव आपके कोरोना के इलाज कोरोनिल का क्या हुआ, आपने कहा था ये कोरोना की वैक्सीन जैसी है।” इतना ही नहीं कई और लोगों ने पतंजलि के कोरोनिल लॉन्च इवेंट में पहुंचने के लिए स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन पर भी निशाना साधा।

बाबा रामदेव ने किया संक्रमण की खबरों से इनकार: खुद रामदेव ने ऐसी खबरों (83 स्टाफ में कोरोना की पुष्टि) को झूठ बताया। कहा कि यह अफवाह है।  दूसरी तरफ बाबा रामदेव के प्रवक्ता एसके तिजारावाला ने पतंजलि के संस्थानों में कर्मियों के पॉजिटिव होने की खबरों को झूठा करार दिया। उन्होंने लिखा, “मीडिया में भ्रामक/निराधार अफवाहों का संज्ञान लेकर हम आगाह करते हैं कोई झूठी खबर ना चलाए। IPD इनडोर मरीजों की आवश्यक कोरोना की टेस्टिंग के लिए सेंटर बना रखा है। जो पॉजिटिव आए उन्हें प्रवेश नहीं दिया जाता। योगग्राम, निरामयम, आचार्यकुलम, पतंजलि संस्थानों में कोई पॉजिटिव नहीं है।

Next Stories
1 दिल्ली दंगों में की थी शांति की पहल, पहलवान लाभांशु शर्मा को गांधी पीस फाउंडेशन से मिला सम्मान
2 कोरोना में कुंभ: उत्तराखंड सरकार जारी रखने पर अड़ी, नरेंद्र मोदी कर रहे खत्म करने की प्रार्थना
3 वायरल वीड‍ियो: अमले के साथ आग बुझाने जंगल पहुंच गए वन मंत्री, झाड़‍ियों से बुझाने लगे आग
यह पढ़ा क्या?
X