ताज़ा खबर
 

नेपाल के राजा के “सारथी” बने बाबा रामदेव, गाड़ी की ड्राइविंग सीट पर बैठ खिंचाई फोटो, पर मास्क था नदारद

रामदेव ने अपने ट्विटर अकाउंट पर कुछ तस्वीरें शेयर कीं। वह नेपाल के राजा के ड्राइवर बने हुए थे। इस दौरान किसी ने भी मास्क नहीं लगाया था।

baba ramdev, patanjaliनेपाल के राजा ज्ञानेंद्र विक्रम के साथ रामदेव। फोटो क्रेडिट- ट्विटर हैंडल स्वामी रामदेव

योगगुरु रामदेव अक्सर अपने अंदाज को लेकर चर्चा में रहते हैं। अब वह नेपाल के राजा के ‘सारथी’ के रूप में नजर आए हैं। अपने सोशल मीडिया अकाउंट से रामदेव ने कुछ तस्वीरें ट्वीट कीं जिसमें वह गाड़ी की ड्राइवर सीट पर बैठे नजर आ रहे हैं और साथ ही राजा ज्ञानेंद्र वीर शाह बैठे हुए हैं। दरअसल राजा ज्ञानेंद्र वीर पतंजलि योगपीठ पहुंचे थे। ध्यान देने वाली बात यह भी रही कि इस मुलाकात के दौरान किसी ने मास्क नहीं लगाया था।

पतंजलि आयुर्वेद के एमडी आचार्य बालकृष्ण ने भी ट्वीट किया, ‘भारतीय संस्कृति,सनातन परंपरा की गूंज लोगों को अपनी ओर आकर्षित करती है नेपाल के राजा श्री ज्ञानेंद्र वीर विक्रम शाह आज पतंजलि परिसर पहुंचे स्वामी रामदेव जी के नेतृत्व में पतंजलि के कार्यों को देखकर अभिभूत होते हुए उन्होंने कहा कि जितना पतंजलि के विषय में उन्होंने सुना था उससे कई गुना ज्यादा अनुसंधान व बाकी सेवा के कार्य हो रहे हैं।’

एक अन्य तस्वीर में रामदेव राजा ज्ञानेंद्र, बालकृष्ण और अन्य कुछ लोगों के साथ बैठे नजर आ रहे हैं। इसमें भी किसी ने मास्क नहीं लगा रखा है। दरअसल आजकल हरिद्वार में कुंभ मेला चल रहा है। ऐसे में दूर-दूर से लोग यहां आ रहे हैं। राजा ज्ञानेंद्र भी कुंभ मेले के लिए भारत आए और पतंजलि योगपीठ भी गए। इस दौरान रामदेव ने उन्हें पतंजलि आयुरवेंद के प्लांट भी दिखाए।

बता दें कि हरिद्वार के कुंभ मेले में केवल सोमवार को ही 35 लाख से ज्यादा लोग पहुंचे थे। मेले के लिए कोरोना की गाइडलाइन जारी तो की गई हैं लेकिन इसका पालन करते कम ही लोग नजर आते हैं। उत्तराखंड के सीएम तीरथ सिंह रावत ने भी एक बयान में कह दिया कि गंगा मैया की कृपा से यहां कोरोना नहीं फैलेगा। वहीं आंकड़ों की बात करें तो केवल हरिद्वार में पिछले पांच दिनों में 1500 लोग संक्रमित मिल चुके हैं।

हरिद्वार में एक ही दिन में 594 कोरोना मरीज पाए गए। इसके साथ ही कुल मरीजों की संख्या बढ़कर 2812 हो गई है। उत्तराखंड सरकार का दावा है कि कुंभ मेले के दौरान कोरोना प्रोटोकॉल का पालन किया जा रहा है।

Next Stories
1 लालू यादव की रिहाई के लिए बेटी ने रखा रोजा तो भड़के सुशील मोदी, बोले- छठी मैया और अल्लाह दोनों को धोखा
2 ऐंकर से भिड़े मौलाना, हत्या को गलत कहने को बोले तो जवाब मिला- आप मानसिकता बदलो
3 कोरोना से बेतहाशा मौतें: सूरत के विद्युत शवदाह गृह में इतने शव जले कि चिमनी पिघल गई, लोहे का प्लैटफ़ॉर्म जल गया
यह पढ़ा क्या?
X