X

जब बाबा रामदेव ने 35 रुपए लीटर पेट्रोल के नाम पर नरेंद्र मोदी के लिए मांगा था वोट

पिछले लगभग साढ़े चार साल से देश में नरेंद्र मोदी की सरकार है लेकिन न तो कभी पेट्रोल 35 रुपये प्रति लीटर हुआ और न ही रसोई गैस का सिलेंडर कभी 300 रुपये का हुआ बल्कि दिनों दिन यह महंगा होता चला गया।

देश में आज डीजल और पेट्रोल की कीमतों में रोजाना बढ़ोत्तरी हो रही है। आलम यह है कि पेट्रोल की कीमत देश में पहली बार 88.73 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गई है जबकि डीजल का दाम 72.83 रुपये प्रति लीटर हो चुका है। आशंका जाहिर की जा रही है कि तेल की कीमतों में अभी और बढ़ोत्तरी हो सकती है। मोदी राज में तेल की बढ़ती कीमतों के विरोध में कांग्रेस ने सोमवार (10 सितंबर) को भारत बंद का आह्वान किया था जिसे तमाम विपक्षी दलों ने समर्थन दिया था। विपक्ष का आरोप है कि पीएम नरेंद्र मोदी तेल की बढ़ती कीमतों पर चुप्पी साधे बैठे हैं जबकि 2014 की चुनावी रैलियों और उससे पहले मोदी जी तेल की बढ़ती कीमतों पर तत्कालीन केंद्र की मनमोहन सिंह सरकार पर हमला बोलते थे। उस वक्त विपक्ष के तमाम नेताओं समेत योग गुरू बाबा रामदेव ने भी तेल की कीमतों पर यूपीए सरकार पर हमला बोला था और लोगों से नरेंद्र मोदी को चुनाव में जिताने की अपील करते हुए कहा था कि अगर मोदी सरकार बनी तो देश में 35 रुपये प्रति लीटर पेट्रोल मिलेगा।

इंडिया टीवी के शो ‘आप की अदालत’ में बाबा रामदेव ने जनवरी 2014 में कहा था, “पेट्रोल का बेसिक प्राइस 35 रुपये है। उस पर 50 फीसदी सरकार ने टैक्स लगा रखा है।” उन्होंने कहा कि यहां युवा मौजूद हैं। रजत जी आपने युवाओं को बुलाकर अच्छा काम किया। रामदेव ने कहा, “अच्छा बच्चों, ये बताओ- आपको 75-80 रुपये का पेट्रोल चाहिए या 35 रुपये का? तो आपको जो 35 रुपये का पेट्रोल दिलाएगा उसको वोट देंगे कि 75-80 रुपये देनेवालों को? अच्छा आज आपको गैस सिलिंडर बिना सब्सिडी के 1200 रुपये और सब्सिडी के साथ सवा चार सौ का मिलता है, यदि गैस सिलेंडर 300 रुपये में या 400 रुपये में मिलेगा, उसको वोट करोगे या 1200 रुपये वालों को।” शो में मौजूद युवाओं ने तब तालियां बजाकर और सीटी बजाकर बाबा रामदेव की बात का समर्थन किया था और मोदी को वोट देने की बात कही थी। माना जाता है कि इसी तरह के सपने बीजेपी के अन्य नेताओं और खुद नरेंद्र मोदी ने भी तब दिखाया था।

बता दें कि पिछले लगभग साढ़े चार साल से देश में नरेंद्र मोदी की सरकार है लेकिन न तो कभी पेट्रोल 35 रुपये प्रति लीटर हुआ और न ही रसोई गैस का सिलेंडर कभी 300 रुपये का हुआ बल्कि दिनों दिन यह महंगा होता चला गया। आज पेट्रोल 88 रुपये के ऊपर है जबकि रसोई गैस सिलेंडर सब्सिडी के बाद भी 750 रूपये के ऊपर चला गया है। रामदेव ने इस शो में वन टैक्स की भी वकालत की थी और कहा था कि उससे लोगों को घरेलू उपयोग के सामानों पर सिर्फ एक फीसदी टैक्स देना पड़ेगा लेकिन वह भी सच साबित नहीं हुआ और जीएसटी लागू होने के बाद आम इस्तेमाल के अधिकांश सामानों पर टैक्स में कोई बदलाव नहीं हुआ बल्कि सामान धीरे-धीरे और महंगे हुए हैं।

  • Tags: Baba Ramdev,