ताज़ा खबर
 

राम मंदिर पर बोले कांग्रेस नेता- दशरथ के महल में 10 हजार कमरे थे, कौन जानता है भगवान राम किसमें पैदा हुए?

राम मंदिर मुद्दे पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर का नया बयान आया है। मणिशंकर अय्यर ने यह बात सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया द्वारा दिल्ली में आयोजित कार्यक्रम 'एक शाम बबरी मस्जिद के नाम' में कही।

वरिष्ठ कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर (सोर्स- एएनआई)

राम मंदिर मुद्दे पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर का नया बयान आया है। उन्होंने कहा है कि राजा दशरथ के महल में 10 हजार कमरे थे और भगवान राम किस कमरे में पैदा हुए, यह कौन जानता है? मणिशंकर अय्यर ने यह बात सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया द्वारा दिल्ली में आयोजित कार्यक्रम ‘एक शाम बबरी मस्जिद के नाम’ में कही। उन्होंने कहा, “हम कहते हैं मंदिर आप जरूर बनाइए अयोध्या में यदि आप चाहते हो, लेकिन आप कैसे कह सकते हैं कि मंदिर वहीं बनाएंगे… मंदिर वहीं बनाने का क्या मतलब बना…” उन्होंने आगे कहा, “दशरथ बहुत बड़े महाराजा थे… कहा जाता है कि उनके महल में 10,000 कमरे थे। तो कौन जानता है कि कौन सा कमरा कहां था… इसलिए यह कहना… कि हम सोचते हैं… कि हमारे भगवान राम यहीं पैदा हुए थे और इसलिए वहीं बनाना है… और क्योंकि एक मस्जिद है वहां, उसको हम पहले तोड़ेंगे और उसकी जगह हम मंदिर बनाएंगे…” मणिशंकर अय्यर के इस बयान के बाद सोशल मीडिया पर उनकी काफी लानत-मलानत हो रही है।

कार्यक्रम में अपने विचार व्यक्त करते हुए उन्होंने और भी कई बातें कहीं। मणिशंकर अय्यर कहते हैं कि 6 दिसंबर का दिन इस देश के लिए पतन का दिन था। 6 दिसंबर 1992 को जो कुछ हुआ वो नहीं होना चाहिए था। लेकिन वो सबकुछ हुआ। वो कांग्रेस से हैं और हम लोगों की तरफ से गलती हुई। बता दें अपने बयानों के चलते मणिशंकर अय्यर कई बार विवादों में रहे हैं। 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले मणिशंकर अय्यर के पीएम नरेंद्र मोदी(उस समय गुजरात के मुख्यमंत्री) के खिलाफ दिए गए चायवाले बयान पर उनकी काफी आलोचना हुई थी। उस समय मणिशंकर अय्यर ने कांग्रेस की एक मीटिंग का जिक्र करते हुए कहा था कि अगर मोदी यहां चाय बेचने आते हैं तो कांग्रेस उनका स्वागत करेगी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 सर्ज‍िकल स्‍ट्राइक या मोदी सरकार से नहीं डरा पाक‍िस्‍तान, तोड़ा सीजफायर उल्लंघन का 15 साल का र‍िकॉर्ड
2 West Bengal Teachers Retirement Age: नए साल में टीचर्स को ममता सरकार की सौगात, रिटायरमेंट को लेकर लिया बड़ा फैसला
3 HAL का 20 हजार करोड़ रुपया बकाया, विदेशी कंपनी को हो गया इतने का भुगतान