ताज़ा खबर
 

‘बड़बोले लोगों से हाथ जोड़कर विनती है, कोर्ट के प्रति रखें श्रद्धा’, अयोध्या विवाद पर PM नरेंद्र मोदी की नसीहत

पीएम के मुताबिक, "यह मुद्दा अभी भी सुप्रीम कोर्ट में है, पर कुछ लोग इस पर अनाप-शनाप बयानबाजी कर रहे हैं।"

Narendra Modi, PM, Prime Minister, Ayodhya Issue, Astonished, 'Bayan Bahadur', Obstacles, Nashik, Maharashtra, National News, India Newsमहाराष्ट्र के नासिक में गुरुवार को एक जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी।

अयोध्या विवाद पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार (19 सितंबर, 2019) को चुप्पी तोड़ी है। उन्होंने कहा है कि बड़बोले लोगों से हाथ जोड़कर विनती है कि वे सुप्रीम कोर्ट के प्रति अपनी श्रद्धा रखें। यह मुद्दा अभी भी सुप्रीम कोर्ट में है, पर कुछ लोग इस पर अनाप-शनाप बयानबाजी कर रहे हैं।

महाराष्ट्र के नासिक में एक कार्यक्रम के दौरान उन्होंने कहा, “बीते दो-तीन हफ्तों में कुछ ‘बयान बहादुर’ (बड़बोले बयान देने वाले लोग/नेता) राम मंदिर पर कुछ भी अनाप-शनाप बोल रहे हैं। सुप्रीम कोर्ट की इज्जत करना जरूरी है। यह मामला अभी भी कोर्ट में है। सभी पक्ष कोर्ट में अपनी-अपनी बात रख रहे हैं और कोर्ट भी उन्हें सुन रहा है।”

बकौल पीएम मोदी, “मुझे आश्चर्य होता है कि आखिर ये ‘बयान बहादुर’ आते कहां से हैं? वे बाधा क्यों बन रहे हैं? हमें देश के सुप्रीम कोर्ट, संविधान और न्यायपालिका पर भरोसा करना चाहिए। मैं इन लोगों से गुजारिश करता हूं कि ये कृपया भगवान के लिए न्यायपालिका पर श्रद्धा और भरोसा रखें।

महाराष्ट्र में अगले महीने होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए बीजेपी के चुनाव प्रचार अभियान की शुरुआत करते हुए मोदी ने कहा कि कश्मीर में हिंसा भड़काने के लिए सीमा पार से बहुत कोशिश की जा रही है। वह बोले- हमें फिर से (कश्मीर में) नया स्वर्ग बनाना है…। सभी कश्मीरी को गले लगाएं।’’

मोदी के मुताबिक, हमने वादा किया है कि हम जम्मू-कश्मीर और लद्दाख की समस्याएं हल करने के लिए नए प्रयास करेंगे। आज मैं संतुष्टि के साथ कह सकता हूं कि देश इन्हीं सपनों को पूरा करता हुआ आगे बढ़ रहा है।

50 करोड़ मवेशियों के टीकाकरण को विपक्ष द्वारा राजनीतिक कदम बताए जाने पर तंज कसते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘मवेशी वोट नहीं डालते।’’

राष्ट्रीय मवेशी बीमारी नियंत्रण कार्यक्रम मवेशियों से मुंहपका और खुरपका बीमारी और ब्रुसेलोसिस को पूरी तरह खत्म करने की कोशिश में जुटा है। इसी प्रयास के तहत भैंसों, भेड़ों, बकरियों और सुअरों सहित करीब 50 करोड़ मवेशियों का टीकाकरण किया जाना है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 …मैं गोडसे के दौर में गांधी के साथ हूं- वायरल हो गया वाराणसी के इस लड़के का स्‍कूल में द‍िया भाषण
2 गरम दल के नेताओं के कायल थे सावरकर, 22 की उम्र में ही जलाई थी विदेशी कपड़ों की होली, जहाज से लगा दी थी समंदर में छलांग
3 ट्रेन में चोरी हुआ मंत्री जी का बैग, बोले- मोदी जी करवा रहे हैं, ये उनकी उपलब्‍ध‍ि है
ये पढ़ा क्या?
X