ताज़ा खबर
 

शशि थरूर, कपिल सिब्बल की शैंपू व कंडिश्नर कॉम्बो से की तुलना, लेखक के ट्वीट पर लोग लेने लगे मजे

वहीं, एक अन्य यूजर Amaynagar ने कपिल सिब्बल के दोनों ट्वीट्स के स्क्रीनशॉट को लगते हुए लिखा है कि सोनिया गाँधी का कॉल आने से पहले और सोनिया गाँधी की धमकी के बाद।

Congress, Sonia Gandhi, Rahul Gandhi, Shashi Tharoorकपिल सिब्बल और शशि थरूर, दोनों कांग्रेस के सीनियर नेता हैं। (फाइल फोटो)

कांग्रेस में नेतृत्व विवाद के बीच सोमवार को लेखक आनंद रंगनाथन ने पार्टी के दो सीनियर नेताओं शशि थरूर और कपिल सिब्बल की तुलना शैंपू और कंडिश्नर के कॉम्बो से करा दी। उन्होंने कहा, “कपिल सिब्बल और शशि थरूर की जोड़ी को बाज़ार में शैम्पू और कंडीशनर की तरह से बेचा जाना चाहिए।” आगे उन्होंने इन दोनों नेताओं को पाखंडी करार दिया।

रंगनाथन के ट्वीट पर सोशल मीडिया यूजर्स और फॉलोअर्स ने प्रतिक्रियाएं दीं। हरीश नाम के यूजर ने लिखा- गाँधी परिवार की वर्षों तक गुलामी करने के बाद आज कांग्रेस के कई नेताओं में सच बोलने तक की हिम्मत तक नहीं बची है। आज जब कांग्रेस एक डूबता हुआ जहाज हो गई है तब भी ये नेता उसके साथ डूब कर मर मिटने को तैयार खड़े हैं।

@ManojSheladia ने कहा- मतलब ये साबित हो गया कि जाने-माने सुप्रीम कोर्ट के सीनियर वकील ने बिना तथ्यों की जांच के राहुल गांधी के खिलाफ ट्वीट कर दिया। कौन इनकी मदद लेगा? वहीं, एक अन्य यूजर Amaynagar ने कपिल सिब्बल के दो ट्वीट्स के स्क्रीनशॉट को लगाते हुए लिखा है कि सोनिया गाँधी का कॉल आने से पहले और सोनिया गाँधी की धमकी के बाद।

@Ra_Bies ने लेखक को टैग करते हुए लिखा- सर ऐसे ट्वीट करने सिखा दीजिए, अपना अंगूठा काट कर दे दूंगा।

बता दें कि सिब्बल ने कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) की बैठक में राहुल गांधी की एक कथित टिप्पणी को लेकर उनपर कटाक्ष करते हुए कहा था कि उन्होंने पिछले 30 वर्षों में भाजपा के पक्ष में कोई बयान नहीं दिया, इसके बावजूद ‘हम भाजपा के साथ साठगांठ कर रहे हैं।’ सिब्बल के इस ट्वीट पर विवाद खड़ा होने के बाद कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि राहुल गांधी ने ‘सांठगांठ’ के आरोप वाली कोई टिप्पणी नहीं की।

उन्होंने सिब्बल के ट्वीट को रिट्वीट करते हुए कहा, ‘‘कृपया, फर्जी विमर्श अथवा गलत सूचना फैलाए जाने से गुमराह मत होइए। परंतु हमें एक दूसरे से लड़ने एवं कांग्रेस को नुकसान पहुंचाने के बजाय अधिनायकवादी मोदी सरकार से लड़ने के लिए मिलकर काम करने की जरूरत है।’’ हालांकि, सिब्बल ने राहुल गांधी की एक कथित टिप्पणी को लेकर सोमवार को उन पर निशाना साधने के कुछ देर बाद कहा कि पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष ने उन्हें खुद सूचित किया कि उनके हवाले से जो कहा गया है वो सही नहीं हैं और ऐसे में वह अपना पहले का ट्वीट वापस लेते हैं। (भाषा इनपुट्स के साथ)

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 COVID-19 Sero Survey: दिल्ली में 5-17 साल के नाबालिग सर्वाधिक चपेट में, अरविंद केजरीवाल बोले- हालात काबू में
2 CWC बैठकः 7 घंटे में भी न निकला हल, सोनिया गांधी को खून से लिखा खत हो रहा वायरल
3 ‘जो भी कोई जनेऊधारी नेतृत्व का विरोध करेगा उसे भाजपा की बी टीम बता देंगे’, ओवैसी ने कांग्रेस नेता गुलाम नबी को दिखाया आइना
ये पढ़ा क्या?
X