scorecardresearch

रानी, कमलापति की प्रतिमा, त्रिशूल, हनुमान की मूर्ति समेत पीएम मोदी को मिले 1200 तोहफों की होगी नीलामी, नमामि गंगा प्रोजेक्ट में जाएगा सारा पैसा

पीएम मोदी को मिले उपहारों की ई-नीलामी का यह चौथा संस्करण होगा और उपहारों का बेस प्राइस 100 रुपये से लेकर 10 लाख रुपये तक है।

रानी, कमलापति की प्रतिमा, त्रिशूल, हनुमान की मूर्ति समेत पीएम मोदी को मिले 1200 तोहफों की होगी नीलामी, नमामि गंगा प्रोजेक्ट में जाएगा सारा पैसा
पीएम नरेंद्र मोदी (फोटो- @ANI)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उपहार में मिली 1,200 से अधिक वस्तुओं की नीलामी 17 सितंबर से की जाएगी और नीलामी से होने वाली आय नमामि गंगे मिशन में दी जाएगी। नेशनल गैलरी ऑफ मॉडर्न आर्ट (जहां उपहार प्रदर्शित किए जाते हैं) के महानिदेशक अद्वैत गडनायक ने कहा कि नीलामी वेब पोर्टल pmmementos.gov.in के माध्यम से आयोजित की जाएगी और 2 अक्टूबर को समाप्त होगी।

अद्वैत गडनायक ने बताया कि एक आम आदमी और साथ ही भारत की समृद्ध संस्कृति और विरासत का प्रतिनिधित्व करने वाले विभिन्न गणमान्य व्यक्तियों द्वारा प्रस्तुत किए गए उपहारों की एक विस्तृत श्रृंखला की नीलामी की जानी है। उपहारों का आधार मूल्य 100 रुपये से लेकर 10 लाख रुपये तक है।

उपहारों की सूची में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा उपहार में दी गई रानी कमलापति की एक मूर्ति, एक हनुमान मूर्ति और उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ द्वारा उपहार में दी गई एक सूर्य पेंटिंग और हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर द्वारा उपहार में दिया गया एक त्रिशूल शामिल है।

नीलामी में शामिल कोल्हापुर में स्थित देवी महालक्ष्मी की एक मूर्ति भी शामिल है, जिसे एनसीपी नेता अजीत पवार ने उपहार में दिया था। इसके साथ ही आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी द्वारा उपहार में दी गई भगवान वेंकटेश्वर की वॉल हैंगिंग भी नीलामी में शामिल है।

पीएम मोदी को मिले उपहारों की ई-नीलामी का यह चौथा संस्करण होगा। नेशनल गैलरी ऑफ मॉडर्न आर्ट के निदेशक तेम्सुनारो जमीर ने कहा कि पदक विजेता खिलाड़ियों द्वारा हस्ताक्षरित टी-शर्ट, बॉक्सिंग दस्ताने, भाला और रैकेट जैसी खेल वस्तुओं का एक विशेष संग्रह है। उपहारों में उत्कृष्ट पेंटिंग, मूर्तियां, हस्तशिल्प और लोक कलाकृतियां भी शामिल हैं।

उन्होंने कहा कि इनमें से कई चीजें उपहार के रूप में दी जाती हैं, जैसे कि पारंपरिक अंगवस्त्र, शॉल, सिर के गियर, औपचारिक तलवारें आदि। अन्य यादगार वस्तुओं में अयोध्या में आगामी श्री राम मंदिर और वाराणसी में काशी-विश्वनाथ मंदिर की प्रतिकृतियां और मॉडल शामिल हैं।

अब तक कुल तीन बार पीएम मोदी को मिले उपहारों की नीलामी की जा चुकी है। हर बार नीलामी ऑनलाइन होती है और जो नीलामी में सबसे अधिक बोली लगाता है, उसे वह उपहार मिल जाता है।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 12-09-2022 at 07:56:52 am
अपडेट