ताज़ा खबर
 

3 साल में बेकार हो जाएंगे सभी ATM: नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अमिताभ कांत

जयपुर में चल रहे साहित्य महोत्सव में नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कांत ने एक चर्चा में शिरकत करते हुए कहा है कि अगले तीन साल में सभी एटीएम किसी काम के नहीं रहेंगे।

NITI Aayog, niti aayog CEO amitabh kant, amitabh kant Statement, Backward Districts, Backward Districts of Country, NITI Aayog on Backward Districts, Backward Districts in UP, Backward Districts in India, National Newsनीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कांत। (फाइल फोटो)

जयपुर में चल रहे साहित्य महोत्सव में नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कांत ने एक चर्चा में शिरकत की। चर्चा को ‘ब्रेव न्यू वर्ल्ड: द वर्चुअल इकॉनमी एंड बियॉन्ड’ का शीर्षक दिया गया जिसमें डिजिटल अर्थव्यवस्था विषय पर चर्चा की गई। इसी दौरान अमिताभ कांत ने कहा कि डिजिटल अर्थव्यवस्था की ओर तेजी से बढ़ने के लिए नोटबंदी जरूरी थी। उन्होंने कहा, ‘हम एक बड़े उथल-पुथल के बीच में हैं। अभी 85% लेनदेन नकद में हो रहा है। इससे कालेधन के लिए अधिक अवसर पैदा हो रहे हैं लेकिन, हमने मोबाइल फोन की दुनिया में असाधारण वृद्धि देखी है। मतलब यह कि नकदी रहित अर्थव्यवस्था के लिए आधारभूत ढांचा मौजूद है।’

कांत ने आगे कहा कि अगले 3 साल में देश में सभी एटीएम किसी काम के नहीं रहेंगे, यह अपनी प्रासंगिकता खो देंगे। हाल ही में सूचना और प्रौद्योगिकी सचिव बने अरुणा सुंदरराजन ने केन्या का उदाहरण दिया। उन्होंने कहा कि केन्या में कम बैंक हैं और प्रौद्योगिकी में भी ऐसी कोई विशेष उन्नति नहीं हुई है, लेकिन फिर भी वहां 50-60 फीसदी लेनदेन फोन के जरिए होता है।

सुंदरराजन ने कहा, ‘एक बार जब चार बड़ी संचार कंपनियां डिजिटल बैंकिंग की तरफ पूरी तरह खिंच आएंगी, और यह अगले साल होगा, तब नकदी रहित अर्थव्यवस्था में अभूतपूर्व वृद्धि देखने को मिलेगी।’ वहीं शीर्ष अधिकारियों द्वारा की गई इन बातों का चर्चा में शामिल कई लोगों ने सवालिया निशान खड़े किए।

Next Stories
1 भारतीय जवान की वापसी, अब उठी ‘उरी हमले में शामिल’ PAK बच्चों की रिहाई की मांग, कहा – मोदी से उम्मीद है
2 टाटा जेएलआर पर 900,000 पौंड का जुर्माना
यह पढ़ा क्या?
X