ताज़ा खबर
 

Election Results 2021: कोविड के मद्देनजर इस बार मतगणना के लिए खास इंतजाम

देश में फैली महामारी के मद्देनजर इस बार मतगणना के लिए विशेष प्रबंध किए गए हैं।

elections, ECIएक चुनाव अधिकारी मतगणना केंद्र का निरीक्षण करते हुए। (पीटीआई)।

देश में फैली महामारी के मद्देनजर इस बार मतगणना के लिए विशेष प्रबंध किए गए हैं। चुनाव चार राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश में हुए हैं। रविवार की सुबह इन पांचों जगह—- केरल, तमिलनाडु, पुदुचेरी, पश्चिम बंगाल और असम में कड़ी सुरक्षा के बीच वोटों की गिनती का काम शुरू हो गया।

चुनाव आयोग ने जबरदस्त प्रबंध किए हैं। मतगणना हॉल्स की संख्या बढ़ा दी गई है जबकि भीतर बैठने वालों की संख्या नियंत्रित कर दी गई है। सख्त आदेश है कि भीतर वही घुस पाएगा जिसके पास कोविड-निगेटिव का सार्टिफिकेट होगा। विजय जुलूस जैसे जलसों पर पहले ही रोक लगा दी गई थी कि भीड़ के कारण कोविड संक्रमण न फैले। पश्चिम बंगाल में 108 मतगणना केंद्रों पर कई स्तर का सुरक्षा बंदोबस्त किया गया है। 292 प्रेक्षक नियुक्त किए गए हैं और राज्य के 23 जिलों में केंद्रीय बलों की 256 कंपनियां तैनात की गई हैं।

Election Results 2021 Live Updates

उधर, केरल के मुख्य चुनाव अधिकारी टेक राम मीणा ने बताया कि राज्य में 633 मतगणना हॉल बनाए गए हैं। वहां 140 विधानसभा सीटों के लिए वोट पड़े थे। इस बार के 633 मतगणना हॉल पिछले चुनाव से कई गुना है। पिछली बार मात्र 140 हॉल बने थे। केरल में मल्लपुरम लोकसभा सीट का भी चुनाव हुआ है। उसके वोट भी रविवार को गिने जा रहे हैं। असम में भी मतगणना हॉल्स की संख्या 331 कर दी गई है।

तमिलनाडु में भी मतगणना और उस दौरान सुरक्षा के जबरदस्त इंतजाम किए गए हैं। यहां 75 केंद्रों पर गणना हो रही है। सुरक्षा के लिए एक लाख जवान तैनात किए गए हैं। इनमें 20,000 जवान अकेले चेन्नई में तैनात किए गए हैं। तमिलनाडु में विधानसभा की 234 सीटों के लिए छह अप्रैल को वोट हुए थे। मुख्य चुनाव अधिकारी सत्यब्रत साहू ने बताया कि मतगणना के दौरान हर सीट के ऊपर एक कैमरा लगा रहेगा जो गिनने वालों पर बारीक नजर रखेगा।

Next Stories
1 नवजोत सिंह सिद्धू मौकापरस्त, ज्वाइन कर सकते हैं AAP- पंजाब CM कैप्टन अमरिंदर सिंह का निशाना
2 कोरोना टास्क फोर्स की मोदी सरकार को सलाह, तुरंत लगाया जाए देशव्यापी लॉकडाउन
3 कोरोना और चुनाव: हमने जिन हुक्मरानों पर भरोसा किया उन्होंने सबको फंसा दिया- वोटों की गिनती से 1 रोज पहले रवीश कुमार की टिप्पणी
यह पढ़ा क्या?
X