ताज़ा खबर
 

असमः सीएम हेमंत सरमा को मरी गाय का फोटो भेज बीफ ऑफर करने पर महिला अरेस्ट

पोस्ट में राज्य के मुख्यमंत्री हेमंत बिस्वा सरमा को बीफ ऑफर करने की बात कही गई थी।

असम के सीएम हेमंत बिस्वा सरमा। (फोटो- इंडियन एक्सप्रेस फाइल)

असम पुलिस का कहना है कि राज्य के नलबाड़ी जिले के एक गांव की एक महिला को कथित तौर पर एक “आपत्तिजनक पोस्ट” अपलोड करने के लिए गिरफ्तार किया गया था। पोस्ट में राज्य के मुख्यमंत्री हेमंत बिस्वा सरमा को बीफ ऑफर करने की बात कही गई थी।

एक शीर्ष पुलिस अधिकारी ने कहा, “कल एक लड़की ने अपने व्हाट्सएप स्टेटस में ‘आपत्तिजनक पोस्ट’ अपलोड की। हमने मामला दर्ज किया और उसे गिरफ्तार कर लिया। बाद में उसे जमानत पर रिहा कर दिया गया क्योंकि यह एक जमानती अपराध था।” असम में मवेशियों के अवैध परिवहन और गोमांस की बिक्री को नियंत्रित करने के लिए राज्य सरकार द्वारा असम मवेशी संरक्षण अधिनियम, 2021 को पेश करने के बाद गिरफ्तारी का यह पहला ऐसा मामला है।

विधेयक में मुख्य रूप से हिंदू, जैन, सिख और अन्य गैर-बीफ खाने वाले समुदायों या किसी मंदिर के 5 किमी के दायरे में रहने वाले स्थानों पर बीफ की बिक्री और खरीद पर रोक लगाने का भी प्रस्ताव है। महिला ने बुधवार को अपने व्हाट्सएप स्टेटस पर एक मरी हुई गाय की फोटो अपलोड की थी और दूसरी तस्वीर में उसने मुख्यमंत्री को बीफ पेश करने का प्रस्ताव रखा था।

पुलिस ने कहा, “लड़की ने कथित तौर पर अपने व्हाट्सएप स्टेटस में असम के मुख्यमंत्री हेमंत बिस्वा सरमा को बीफ ‘उपहार’ करने का उल्लेख किया था। बुधवार को, पूरी दुनिया में मुस्लिम समुदाय ने ईद मनायी और इस दिन इस तरह की ‘आपत्तिजनक पोस्ट’ का मतलब समुदायों के बीच वैमनस्य पैदा करना था।” बता दें कि आरोपी पूर्व स्थानीय भाजपा नेता की बेटी है।

विश्व हिंदू परिषद (विहिप) की नलबाड़ी इकाई ने दो समुदायों के बीच सांप्रदायिक विद्वेष पैदा करने का मामला दर्ज करवाया है। संगठन के एक सदस्य ने कहा, “इस तरह की विवादास्पद पोस्ट हिंदू संस्कृति का अपमान है। हम अपनी संस्कृति का अपमान करने के ऐसे प्रयासों को बर्दाश्त नहीं कर सकते। हिंदू गाय को पवित्र मानते हैं तो आरोपी अपने व्हाट्सएप स्टेटस में ऐसी ‘आपत्तिजनक पोस्ट’ कैसे पोस्ट कर सकती हैं।”

इससे पहले असम के मुख्यमंत्री हेमंत बिस्वा सरमा ने धर्मनिरपेक्षता की अवधारणा को ‘भारतीय सभ्यता’ के संदर्भ में परिभाषित करने की आवश्यकता पर जोर दिया था।

Next Stories
1 बीजेपी सांसद ने मोदी सरकार के बजट को बताया बकवास, कहा- पेट्रोल, डीज़ल की महंगाई से किसान हलकान
2 मंत्री मीनाक्षी लेखी ने किसानों को बताया मवाली, राकेश टिकैत ने किया पलटवार
3 कुंद्रा मामले में अर्नब ने उठाया बॉलीवुड की चुप्पी पर सवाल तो पुराने समय का जिक्र कर मुकेश खन्ना ने कही ये बात
ये पढ़ा क्या ?
X