ताज़ा खबर
 

Assam NRC Draft List: अगर फाइनल लिस्‍ट में नहीं है नाम तो फिर से करना होगा दावा, जानिए कैसे

Assam NRC Final Draft List Online, www.assam.gov.in, www.nrcassam.nic.in, www.assam.mygov.in: जिनका नाम फाइनल ड्राफ्ट में नहीं है वह अपना दावा पेश कर सकते हैं। उसके लिए एक अलग प्रक्रिया का पालन किया जाएगा।

जिनका नाम फाइनल ड्राफ्ट में नहीं हैं, वे नागरिकता के लिए एनआरसी सेवा केंद्र पर आवेदन कर सकते हैं। (Photo : Express Archive)

Assam NRC Final Draft List Online, www.assam.gov.in, www.nrcassam.nic.in, www.assam.mygov.in: नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजन्स (NRC) का फाइनल ड्राफ्ट सोमवार को जारी कर दिया गया। इसमें कुल 3,29,91,384 आवेदकों में से 40 लाख से ज्‍यादा के नाम नहीं हैं। इस ड्राफ्ट में कुल 2,89,83,677 लोगों को भारतीय नागरिक माना गया है, लेकिन जिनका नाम इसमें नहीं है वह अपना दावा पेश कर सकते हैं। उसके लिए एक अलग प्रक्रिया का पालन किया जाएगा।

इसके अलावा यदि लिस्‍ट में किसी अयोग्‍य व्‍यक्ति का नाम नागरिक के तौर पर शामिल कर लिया गया है तो उसके खिलाफ भी आपत्ति जताई जा सकती है। आवेदकों के नाम, उम्र, पता में कोई त्रुटि होने पर भी बदलाव कराया जा सकता है। सभी दावों के निस्‍तारण के बाद ही अंतिम NRC जारी किया जाएगा।

NRC में नहीं है नाम तो ऐसे करें दावा: दावों, आपत्तियों और सुधार के लिए अलग-अलग फॉर्म होंगे। जिन आवेदकों ने 31 अगस्‍त, 2015 तक NRC आवेदन किए होंगे, वही दावा कर सकेंगे। आपत्तियां कोई भी दाखिल कर सकता है। दावे सिर्फ उसी NRC सेवा केंद्र पर सबमिट किए जाएंगे, जहां आवेदक ने अप्‍लाई किया था। अगर आवेदक का पता बदल गया तो भी उन्‍हें उसी सेवा केंद्र से आवेदन करना होगा जहां पहले किया था।

आपत्तियां केवल उसी सेवा केंद्र में दायर की जा सकेंगी जिसके क्षेत्र में उस व्‍यक्ति का निवास है जिसके खिलाफ आपत्ति दायर की गई है। दावा और आपत्ति को सेवा केंद्र पर लोकल रजिस्‍ट्रार ऑफ सिटिजन रजिस्‍ट्रेशन के पास सबमिट करना होगा।

दावे, आपत्तियां और सुधार के आवेदन 30 अगस्‍त, 2018 से 28 सितंबर 2018 तक निर्धारित प्रारूप में ही लिए जाएंगे। यह सभी प्रारूप सेवा केंद्र पर उपलब्‍ध होंगे। इसके अलावा इन्‍हें 7 अगस्‍त से www.nrcassam.nic.in पर डाउनलोड भी किया जा सकता है।

असम पहला भारतीय राज्य है जहां असली भारतीय नागरिकों के नाम शामिल करने के लिए 1951 के बाद एनआरसी को अपडेट किया जा रहा है। एनआरसी का पहला मसौदा 31 दिसंबर और एक जनवरी की रात जारी किया गया था, जिसमें 1.9 करोड़ लोगों के नाम थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App