ताज़ा खबर
 

ऐक्टिविस्ट अखिल गोगोई के घर NIA का छापा, देशद्रोह के आरोप में अरेस्ट; साथ ले गए ढेर सारे कागजात

रेड के बाद टीम उन्हें ढेर सारे कागजातों के साथ गुवाहाटी स्थित आवास से गिरफ्तार कर साथ ले गई।

कृषक मुक्ति संग्राम समिति (KMSS) के सलाहकार को गुरुवार को गुवाहाटी स्थित NIA कोर्ट में पेश किया गया। (PTI Photo)

किसान नेता, कृषक मुक्ति संग्राम समिति (KMSS) के सलाहकार और जाने-माने RTI कार्यकर्ता अखिल गोगोई के घर गुरुवार को National Investigation Agency (NIA) और असम पुलिस के संयुक्त दस्ते का छापा पड़ा।

रेड के बाद टीम उन्हें ढेर सारे कागजातों के साथ गुवाहाटी स्थित आवास से गिरफ्तार कर साथ ले गई।उन्हें इसके बाद गुवाहाटी स्थित NIA कोर्ट में पेश किया गया।

इससे पहले, सुबह NIA अधिकारी छापेमारी के सिलसिले में निजरापार क्षेत्र उनके आवास और गांधी बस्ती में Krishak Mukti Sangram Samiti के दफ्तर पहुंचे थे।

आरटीआई कार्यकर्ता की पत्नी गीताश्री तमुली ने पत्रकारों को इस बारे में बताया, “अधिकारी कुछ फाइलें, पुराना लैपटॉप, डायरी (जिसे जेल में गोगोई लिखते थे) समेत अन्य सामान भी साथ ले गए, जिस पर मेरे पति काम कर रहे थे।”

बता दें कि किसान नेता सूबे में Citizenship Amendment Act (CAA) विरोधी प्रदर्शनों का नेतृत्व कर रहे थे, जिसके बाद उन्हें 12 दिसंबर को स्थानीय पुलिस ने जोरहाट में हिरासत में ले लिया था।

बाद में उन्हें NIA के हवाले कर दिया गया था, जहां से कोर्ट ने उन्हें जांच एजेंसी की 10 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया था। पूछताछ के लिए वह उसी दिन दिल्ली भी लाए गए थे। हालांकि, बुधवार को उन्हें वापस गुवाहाटी लाया गया और स्पेशल एनआईए कोर्ट में गुरुवार को पेश किया गया।

NIA ने भारतीय दंड संहिता की धारा 120B, 124A, 153A, 153B के साथ Unlawful Activities (Prevention) Amendment Act (UAPAA) के Section 18 व Section 39 के तहत मामला दर्ज किया गया था।

गोगोई की तत्काल रिहाई की मांग को लेकर असम में कई संगठनों ने 12 घंटे की राज्यस्तरीय हड़ताल बुलाई है, जिसकी शुरुआत आज सुबह हुई थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 ‘CDS’ की दौड़ में आगे चल रहे जनरल बिपिन रावत के हिंसक प्रदर्शन वाले बयान पर विवाद- ओवैसी ने दी सीमा में रहने की नसीहत
2 “तूफान में कश्तियां और घमंड हस्तियां अक्सर डूब जाती हैं”, संजय राउत का BJP पर हमला
3 13 ऐक्टिविस्टों की रिपोर्ट: अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में पुलिसवालों ने लगाए थे ‘जय श्रीराम’ के नारे, छात्रों पर ग्रेनेड भी फेंके थे
ये पढ़ा क्या?
X