ताज़ा खबर
 

रिटायरमेंट के बाद गुवाहाटी शिफ्ट होंगे CJI रंजन गोगोई? HC ने पास किया PA, कार व चपरासी देने का रिजॉल्यूशन!

'बार एंड बेंच' की एक रिपोर्ट के मुताबिक, यह प्रस्ताव हाईकोर्ट की प्रोटोकॉल कमेटी ने तैयार किया था, जिसे बाद में पूरे कोर्ट ने पारित कर दिया।

Author नई दिल्ली | Updated: November 4, 2019 7:40 PM
CJI रंजन गोगोई। (फाइल फोटोः PTI)

चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया (CJI) रंजन गोगोई रिटायरमेंट के बाद असम के गुवाहाटी में शिफ्ट हो सकते हैं। सोमवार को वहां के हाईकोर्ट ने उनसे जुड़ा एक प्रस्ताव पारित किया है। इसमें सीजेआई को रिटायरमेंट के बाद निजी सचिव (पीए), कार और चपरासी देने की बात शामिल है। ‘बार एंड बेंच’ की एक रिपोर्ट के मुताबिक, यह प्रस्ताव हाईकोर्ट की प्रोटोकॉल कमेटी ने तैयार किया था, जिसे बाद में पूरे कोर्ट ने पारित कर दिया।

प्रस्ताव के मुताबिक, रिटायरमेंट के बाद CJI गोगोई गुवाहाटी शिफ्ट हो सकते हैं। यह यहां के हाईकोर्ट के लिए सम्मान और गर्व की बात है कि जिस वकील ने यहां कभी प्रैक्टिस की थी, वह देश की सबसे बड़ी न्यायिक संस्था के मुखिया बने। यही वजह है कि प्रोटोकॉल कमेटी ने उन्हें संस्थागत शिष्टाचार के तहत ये सुविधाएं देने के लिए प्रस्ताव रखा है।

प्रोटोकॉल कमेटी ने ये प्रस्ताव रखे थे, जिन्हें कोर्ट ने स्वीकार लिया हैः

– CJI गोगोई और उनकी पत्नी की दैनिक जरूरतों के लिए एक निजी सचिव होगा।

– दोनों को ग्रेड IV का चपरासी भी मिलेगा। हाईकोर्ट इसके अलावा उन्हें गुवाहाटी स्थित बंगले पर एक अन्य चपरासी भी उपलब्ध कराएगा।

– जस्टिस गोगोई को Chauffeur (वाहन) भी मुहैया कराया जाएगा, जो कि अच्छी स्थिति में होगा।

– एक नोडल अधिकारी भी होगा, जिसे रजिस्ट्री के जरिए चिह्नित किया जाएगा और वही सीजेआई गोगोई के निजी सचिव के साथ आपसी ताल-मेल बिठाएगा।

बता दें कि CJI रंजन गोगोई सुप्रीम कोर्ट से इसी 17 नवंबर को रिटायर हो जाएंगे। उन्होंने 2001 में गुवाहाटी हाईकोर्ट से बतौर जज करियर की शुरुआत की थी, जबकि इससे पहले 2010 में उनका ट्रांसफर पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट में हुआ था।

2011 में उन्हें पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट का चीफ जस्टिस नियुक्त किया गया गया था, जबकि 23 अप्रैल 2012 को वह पदोन्नत हो सुप्रीम कोर्ट पहुंचे। बाद में तीन अक्टूबर, 2018 को वह चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया नियुक्त किए गए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 बीजेपी ने शिवसेना के फार्मूले को ठुकराया, कहा- नहीं देंगे सीएम पद, खुले हैं बातचीत के विकल्प!
2 शिवसेना से तनाव के बीच देवेंद्र फडणवीस के मंत्री की चेतावनी- दोबारा चुनाव के लिए तैयार है BJP
3 दिल्ली में केजरीवाल के ऑड-इवन का बीजेपी कर रही विरोध, पर पड़ोसी राज्य में लागू करने के लिए भाजपाई मंत्री ने पुलिस को दिए निर्देश, अब पलटे
जस्‍ट नाउ
X