ताज़ा खबर
 

मैंने सोनिया गांधी से कहा था कि राहुल को कमान दें क्योंकि नरेंद्र मोदी एक उन्हीं से डरते हैं: असम कांग्रेस चीफ़

रिपुन बोरा ने अपने एक ताजा बयान में कहा है कि 'राहुल गांधी को फिर से कांग्रेस अध्यक्ष बनाया जाना चाहिए क्योंकि नरेंद्र मोदी केवल उन्हीं से डरते हैं।'

rahul gandhi narendra modi congress president sonia gandhi assamअसम कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष का दावा- सिर्फ राहुल गांधी से डरते हैं नरेंद्र मोदी। (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

कांग्रेस में पूर्णकालिक अध्यक्ष की मांग लगातार जोर पकड़ रही है। पार्टी के कई नेता राहुल गांधी को फिर से अध्यक्ष बनाए जाने के पक्ष में हैं। इन्हीं नेताओं में असम के कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष रिपुन बोरा का नाम भी शामिल है। रिपुन बोरा ने अपने एक ताजा बयान में कहा है कि ‘राहुल गांधी को फिर से कांग्रेस अध्यक्ष बनाया जाना चाहिए क्योंकि नरेंद्र मोदी केवल उन्हीं से डरते हैं।’

रिपुन बोरा ने कहा है कि “कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और राज्यसभा सांसदों के साथ हुई पूर्व की वीडियो कॉन्फ्रेंस में भी मैंने सोनिया गांधी से अपील की थी कि कांग्रेस पार्टी का नेतृत्व राहुल गांधी को सौंपा जाए क्योंकि नरेंद्र मोदी सिर्फ राहुल गांधी से डरते हैं।” बता दें कि जल्द ही कांग्रेस वर्किंग कमेटी की अहम बैठक होनी है। माना जा रहा है कि इस बैठक में पार्टी नेतृत्व को लेकर कोई फैसला किया जा सकता है। चर्चाएं हैं कि राहुल गांधी को फिर से पार्टी अध्यक्ष बनाया जा सकता है। हालांकि राहुल गांधी इसके लिए तैयार हैं या नहीं, अभी तक यह साफ नहीं है।

मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक सोनिया गांधी भी राहुल गांधी को पार्टी अध्यक्ष बनाए जाने की इच्छुक हैं। लेकिन यदि राहुल गांधी इसके लिए तैयार नहीं होते हैं तो कांग्रेस में एक फार्मूले पर मंथन चल रहा है। दरअसल कांग्रेस पार्टी सोनिया गांधी की मदद के लिए दो उपाध्यक्ष नियुक्त कर सकती है।

यदि कांग्रेस उपाध्यक्ष वाले फार्मूले को अपनाती है तो गुलाम नबी आजाद, पी.चिदंबरम और मल्लिकार्जुन खड़गे का नाम उपाध्यक्ष पद की रेस में शामिल है। वहीं युवाओं तो नेतृत्व में स्थान देने के लिए राहुल गांधी के करीबी सुष्मिता देव और मनिकाम टैगोर का नाम भी उपाध्यक्ष पद के लिए उभर कर सामने आ रहा है।

बता दें कि कई नेता कांग्रेस में नेतृत्व के मुद्दे पर विरोध के स्वर बुलंद कर चुके हैं। राहुल गांधी द्वारा बीते लोकसभा चुनाव में हार के बाद कांग्रेस अध्यक्ष का पद छोड़ने के बाद से सोनिया गांधी कार्यकारी अध्यक्ष के रूप में काम कर रही हैं लेकिन कांग्रेस जिस तरह से लगातार कमजोर हो रही है, उससे पार्टी के कई नेता चिंतित हैं और वह पूर्णकालिक अध्यक्ष की मांग कर रहे हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
ये पढ़ा क्या?
X