ताज़ा खबर
 

असम के कोकराझार में ISIS की तरह हमला, बाजार में अंधाधुंध फायरिंग में 14 नागरिकों की मौत

असम के कोकराझार में शुक्रवार को अंधाधुंध हुई फायरिंग में 14 आम लोगों की मौत हो गई। फायरिंग एक बाजार में हुई। संदिग्‍ध उग्रवादियों ने आईएसआईएस की तरह हमला कर निर्दोष लोगों की जान ले ली। बताया जा रहा हैै कि सुरक्षाबलों से मुठभेड़ के बाद यह फायरिंग हुई। एक संदिग्ध हमलावर के मारे जाने […]
Author कोकराझार | August 5, 2016 21:15 pm
असम के कोकराझार में हमला (ANI)

असम के कोकराझार में शुक्रवार को अंधाधुंध हुई फायरिंग में 14 आम लोगों की मौत हो गई। फायरिंग एक बाजार में हुई। संदिग्‍ध उग्रवादियों ने आईएसआईएस की तरह हमला कर निर्दोष लोगों की जान ले ली। बताया जा रहा हैै कि सुरक्षाबलों से मुठभेड़ के बाद यह फायरिंग हुई। एक संदिग्ध हमलावर के मारे जाने की भी खबर आ रही है। असम के पुलिस महानिदेशक (DGP) ने इस बात की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि सुरक्षा बल मौके पर पहुंच चुके हैं। इस हमले के पीछे कौन है, इस बारे में अभी कुछ साफ नहीं हो सका है। असम में भाजपा की सरकार बनने के बाद यह इस तरह का पहला हमला है। राज्‍य के मुख्‍यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल शुक्रवार को दिल्‍ली में ही थे। उन्‍होंने हमले की खबर मिलते ही केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात की और हालात की जानकारी दी। सिंह ने केंद्र से हर संभव मदद का भरोसा दिया।

कोराझार के बालाजान एरिया में सुरक्षा बलों और हमलावरों के बीच मुठभेड़ जारी है। असम के डीजीपी ने बताया कि 3-4 हमलावर अभी है।  इस हमले के पीछे NDFB (S) का हाथ होने की आशंका जताई जा रही है। पुलिस को एक AK-47 राइफल भी मिली है। रिपोर्ट्स के मुताबिक शुक्रवार को 5-7 के बीच आतंकी आटो रिक्शा से बाजार पहुंचे और खुलेआम अंधाधुंध फायरिंग करने लगे। उग्रवादियों ने ग्रेनेड से भी हमला किया। हमले में 18 लोगों के घायल होने की खबर है। पुलिस ने घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया है। साथ ही पूरे इलाके को चारों तरफ से घेर लिया है। उग्रवादी बिल्डिंग के पास छुपे हुए बताए जा रहे हैं। असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने इस मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी बात की।

असम बीजेपी के वरिष्ठ नेता हिमांता बिसवा सरमा ने ट्विटर पर बताया कि वह घटनास्थल पर जा रहे हैं। उन्होंने इस बर्बर हिंसा और बेगुनाह की हत्या पर हैरानी जताई है। वहीं गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू ने घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। उन्होंने कहा कि लोगों की मौत से हम दुखी है। हम असम में शांति बनाए रखने में कामयाब रहे हैं। हम सुनिश्चित करेंगे कि पीड़ितों का ख्याल रखा जाए। रिजिजू ने कहा कि केंद्र ने राज्य सरकार से इस संबंध में और जानकारी मांगी है और जरुरी कार्रवाई की जाएगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App