ताज़ा खबर
 

आशुतोष ने आम आदमी पार्टी को कहा अलविदा, फिर पत्रकारिता में लौट सकते हैं

आशुतोष एक बार फिर से पत्रकारिता में लौट सकते हैं। उन्होंने आम आदमी पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। हालांकि, अभी अरविंद केजरीवाल ने उनका इस्तीफा स्वीकार नहीं किया है।

आम आदमी पार्टी के नेता आशुतोष (Photo Courtesy: Facebook/Ashutosh)

पत्रकारिता छोड़ राजनीति में आए आशुतोष एक बार फिर से पत्रकारिता में लौट सकते हैं। उन्होंने आम आदमी पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। आशुतोष ने आज (15 अगस्त) को सार्वनजनिक तौर पर पार्टी छोड़ने की घोषणा की। इसके पीछे उन्होंने निजी वजह बताई है।आशुतोष ने ट्वीट कर कहा कि, “सभी यात्रा का एक अंत होता है। आप के साथ मेरा संबंध काफी अच्छा रहा। अब इसे समाप्त कर रहा हूं। मैंने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है और इसे स्वीकार करने का आग्रह किया है। इसके पीछे निजी वजह है। मैं पार्टी और अपने समर्थकों सभी को धन्यवाद देता हूं।” बताया जाता है कि उन्होंने कुछ महीने पहले ही आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को अपना इस्तीफा सौंप दिया था, लेकिन केजरीवाल ने अभी तक इसे मंजूर नहीं किया है।

बता दें कि वर्ष 2014 में आशुतोष पत्रकारिता को विदा कह राजनीति में आए थे। आम आदमी पार्टी में शामिल हुए थे। वे आप के संस्थापक सदस्यों में से एक थे। उस समय उनके साथ कैप्टन गोपीनाथ, मीरा सान्याल, किरण बेदी जैसे लोग भी आप के साथ जुड़े थे। आशुतोष ने 2014 लोकसभा चुनाव के समय दिल्ली के चांदनी चौक से चुनाव भी लड़ा था। लेकिन इस चुनाव में तीन लाख से अधिक वोट लाने के बावजूद भाजपा उम्मीदवार डॉ. हर्षवर्धन से चुनाव हार गए थे।

 

गौर हो कि राज्यसभा चुनाव के समय अरिवंद केजरीवाल ने कारोबारी सुशील गुप्ता को राज्यसभा का टिकट दिया था। आशुतोष और संजय सिंह को भी राज्यसभा भेजने की चर्चा हुई लेकिन आशुतोष ने सुशील गुप्ता के साथ राज्यसभा जाने से इंकार कर दिया था। आशुतोष सुशील गुप्ता को राज्यसभा भेजने का विरोध कर रहे थे। लेकिन उनके विरोध के बावजूद सुशील गुप्ता को राज्यसभा भेजा गया। इसके बाद से ही राजनीति में उनकी सक्रियता कम होने लगी। अब उन्होंने पार्टी छोड़ने का फैसला किया है। आगामी लोकसभा चुनाव से पहले आशुतोष का इस तरह से पार्टी छोड़कर जाने से आम आदमी पार्टी को बड़ा झटका लग सकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App