ताज़ा खबर
 

जेल में ही रहेंगे आसाराम, कोर्ट ने फिर ख़ारिज की ज़मानत याचिका

नाबालिग के साथ बलात्कार के आरोप में जेल में बंद आसाराम को अदालत ने आज फिर जमानत देने से इंकार कर दिया। छठी बार आसाराम की जमानत याचिका ठुकराई गई है...

Author Updated: June 20, 2015 3:41 PM

नाबालिग के साथ बलात्कार के आरोप में जेल में बंद आसाराम को अदालत ने आज फिर जमानत देने से इंकार कर दिया। छठी बार आसाराम की जमानत याचिका ठुकराई गई है।

अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश मनोज कुमार व्यास ने 73 वर्षीय आसाराम की जमानत याचिका खारिज करते हुए कहा कि इस तरह के अपराध में आरोपी जमानत का हकदार नहीं है।

भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने कल बतौर वकील आसाराम की पैरवी की थी। उन्होंने दलील दी थी कि पूरे मामले को गढ़ा गया है और आसाराम जमानत पर रिहा होने के हकदार हैं। अदालत ने अपना आदेश आज तक के लिए सुरक्षित रख लिया था।

जमानत याचिका का विरोध करते हुए अभियोजन पक्ष के वकील पीसी सोलंकी ने कहा था कि अदालत को फैसला करने से पहले पीड़िता की उम्र सहित इस कथित अपराध की परिस्थितियों पर ध्यान देना चाहिए।

इससे पहले आसाराम की दो जमानत याचिकाएं निचली अदालत ने खारिज की थीं। उन्होंने जमानत के लिए दो बार उच्च न्यायालय का रुख किया था लेकिन वहां भी उन्हें नाकामी मिली थी। एक बार उच्चतम न्यायालय से भी उनको कोई राहत नहीं मिली।

आसाराम सितंबर, 2013 में गिरफ्तारी के बाद से जेल में बंद हैं। उन पर अपने आश्रम में एक नाबालिग लड़की के साथ यौन उत्पीड़न का आरोप है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
ये पढ़ा क्या?
X
Testing git commit