ताज़ा खबर
 

स्टिंग वीडियो: जब आसाराम ने महिला रिपोर्टर से कहा, ‘मेरे पास सो जाना’

वीडियो में आसाराम महिला रिपोर्टर से अश्लील बातें करता हुआ नजर आ रहा है। संत के चोले में नजर आ रहा है आसाराम रिपोर्टर से खुद के पास सोने के लिए कह रहा है।

नाबालिग बच्ची से बलात्कार के आरोप में जोधपुर कोर्ट ने दोषी आसाराम को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। (फोटो सोर्स वीडियो स्क्रीन शॉट)

नाबालिग से बलात्कार के दोषी कथित धार्मिक गुरु आसाराम को जोधपुर कोर्ट ने बुधवार (25 अप्रैल, 2018) को  उम्र कैद की सजा सुनाई है। कोर्ट ने अपने फैसले में साफ किया है कि आसाराम जब तक जिंदा रहेगा, उसे जेल में ही रहना होगा। आसाराम को सजा सुनाने के बाद अब न्यूज चैनल आजतक की रिपोर्टर का एक स्टिंग ऑपरेशन का वीडियो फिर से वायरल होने लगा है। 2010 में जून से अगस्त के इस वीडियो में आसाराम महिला रिपोर्टर से अश्लील बातें करता हुआ नजर आ रहा है। संत के चोले में नजर आ रहा है आसाराम रिपोर्टर से खुद के पास सोने के लिए कह रहा है। दरअसल, रिपोर्टर ने खुद का परिचय एक अपराधी के रूप में कराया और बताया कि वह अमेरिका से भागकर आई है। रिपोर्ट के मुताबिक, रिपोर्टर को देखते ही आसाराम ने अपने प्रवचन बंद कर दिए और उसे अंदर बुला लिया। इस दौरान आसाराम भविष्य देखने के बहाने बार-बार रिपोर्टर का हाथ पकड़ने लगा। खास बात यह है कि यह जानते हुए भी कि रिपोर्टर एक अपराधी है, वह उसे आश्रम में पनाह देने के लिए तैयार हो गया।

वीडियो में दोनों के बीच क्या बातचीत हो रही है, हम यहां जस का तस बता रहे हैं-
आसाराम– क्या नाम है तुम्हारा बेटा?
रिपोर्टर– पूनम खन्ना (बदला हुआ नाम)
आसाराम– हां बताओ?
रिपोर्टर– मैं बहुत परेशान हूं। आपसे बात करनी थी।
आसाराम– हां…हां…यहां बात मत करो। यहां पर बात करना उचित नहीं है। वैसे माइक बंद है। वही पुलिस वाला पंगा है… जो ऑस्टिन पुलिसवाला नहीं बताया था…जो फ्रॉड किया है…इसने चीटिंग…तो पुलिस के चक्कर में मुंबई से धीरेंद्र जी ने इसको बताया भी नहीं कि किसलिए बुला रहे हैं। उन्होंने बोला की इमरजेंसी है…फटाफट दिल्ली आ जाओ तो आज ये दिल्ली आई। और यह दिल्ली आई हैं तो मैं सीधे इन्हें आपके पास लेकर आया हूं। (यहां आसाराम से शायद कोई तीसरा शख्स बात कर रहा है।)
तीसरा शख्स– अपने यहां इसे पनाह दे दीजिए बस।
रिपोर्टर– किसी से मिलने में भी डर लगता है अब।
आसाराम– नहीं, नहीं,  मेरे यहां तो सीएम (मुख्यमंत्री) भी माथा टेकने आते हैं। यहां कोई परेशानी नहीं है।
रिपोर्टर– बस आप अपनी पनाह में ले लो मुझे।
आसाराम– ठीक है मैं तुम्हें…तुम ये बात किसी को नहीं बताओगी…यही बात बोलना…दर्शन करने और साधना करने आई। ठीक है। जो भी तुम्हारी परेशानी है, वो तुम जानो…मैं जानूं और किसी को नहीं बताना। यही बोलना मैं तो साधना करने आई हूं। तुम यहां रह लो।
आसाराम– अच्छी नींद आए। बढ़िया नींद आए। मैं करता हूं आज।
रिपोर्टर– ठीक है।
आसाराम– मेरे पास सो जाना…ठीक है। चिंता मुक्त अच्छी नींद लो।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App