क्रिकेट मैच में मिली जीत के बाद पाकिस्तान के मंत्री की टिप्पणी पर ओवैसी ने कसा तंज, अल्लाह का शुक्र है हमारे लोग उधर नहीं गए

पाक के गृहमंत्री शेख रशीद के बयान पर ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुसलमिन (AIMIM) के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने तंज कसा है।

Uttar Pradesh, Narendra Modi
ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुसलमिन (AIMIM) के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी (फोटो सोर्स – पीटीआई)

पाक के गृहमंत्री शेख रशीद के बयान पर ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुसलमिन (AIMIM) के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने तंज कसा है। क्रिकेट मैच में मिली जीत को इस्लाम की जीत बताने पर हैरानी जताते हुए ओवैसी ने पूछा कि आखिरकार इस्लाम का क्रिकेट मैच से क्या लेना देना। उन्होंने कहा कि इन पड़ोसियों को कुछ समझ नहीं आता है, अल्लाह का शुक्र है कि हमारे बुजुर्ग नहीं गए वहां (पाकिस्तान) पर, नहीं तो इन पागलों को हमें देखना पड़ता।

पाकिस्तान के गृहमंत्री पर सीधा हमला करते हुए उन्होंने कहा कि तुम्हे शर्म नहीं आती है, अपने मुल्क को चीन के पास गिरवी रखते हो और इस्लाम की बात करते हो। उस चीन को, जिसने 20 लाख मुसलानों को कैद में बंद कर दिया है, जिनको जबरन सुअर खिलाया जा रहा है। AIMIM सांसद ने पाकिस्तान का माखौल उड़ाते हुए कहा, तुम एक मलेरिया की दवा नहीं बना सकते, मोटरसाइकिल का टायर नहीं बना सकते, भारत बहुत आगे है इसलिए हमसे पंगा न लो।

ओवैसी ने कहा कि क्रिकेट का जिक्र करते हुए कहा कि ये हमारे घर का मामला है, हम घर में समझ लेंगे हमें पाकिस्तान की नसीहत की जरूरत नहीं है। साथ ही क्रिकेटर की समर्थन करते हुए कहा कि मैं मोहम्मद शमी को गाली देने वालों से कहना चाहता हूं कि प्यारे, ऐसा बॉलर दोबारा नहीं मिलेगा। बताते चलें कि भारत रविवार को टी-20 विश्व कप के मैच में पाकिस्तान से हार गया था और शमी सबसे महंगे गेंदबाज साबित हुए थे जिन्होंने 3.5 ओवर में 43 रन लुटाए।

ओवैसी ने इससे पहले भी शमी के समर्थन में टिप्पणी करते हुए कहा था कि पाकिस्तान के खिलाफ मिली हार के बाद शमी की हो रही आलोचना से पता चलता है कि देश में मुसलमानों के खिलाफ कट्टरता और नफरत कितनी बढ़ गई है।

उल्लेखनीय है कि पाकिस्तान ने विश्व कप मैच में रविवार को भारत को 10 विकेट से हरा दिया। उसने अपने 13वें प्रयास में चिर प्रतिद्वंद्वी पर पहली जीत दर्ज की।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
योगी आदित्यनाथ और भाजपा प्रत्याशी समेत अनेक लोगों पर मुकदमा
अपडेट