ताज़ा खबर
 

ओवैसी का निशाना- कांग्रेसियों ने किया है देशद्रोह तो पीएम मोदी क्यों नहीं लगवाते रासुका?

मोदी ने कहा था कि मणिशंकर अय्यर के आवास पर हुई बैठक में पूर्व उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भी शामिल थे।

असदउद्दीन ओवैसी ने पीएम मोदी को निशाने पर लिया।

हैदराबाद के सांसद और ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने सोमवार (11 दिसंबर) को फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि अगर पीएम मोदी को ऐसा लगता है कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने देशद्रोह किया है तो वो उनके खिलाफ एनआईए की जांच क्यों नहीं बैठाते या अवांछित गतिविधि (रोकथाम) अधिनिनयम या राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत कार्रवाई क्यों नहीं करवाते।

बता दें कि पीएम मोदी ने गुजरात चुनावों के दौरान रैलियों में रविवार (10 दिसंबर) को यह आरोप लगाया था कि कांग्रेस नेताओं के एक समूह ने मणिशंकर अय्यर के आवास पर पाकिस्तान के उच्चायुक्त के साथ बैठक की, जिसके बाद ही अय्यर ने उन्हें (मोदी) ‘नीच’ कहा। साणंद में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा था कि अय्यर के आवास पर हुई बैठक में पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भी शामिल थे।

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने भी सोमवार को एक बयान जारी कर पीएम नरेंद्र मोदी पर झूठ बोलने का आरोप लगाया और कहा कि वो देश से इस झूठ के लिए माफी मांगें। अपने बयान में मनमोहन सिंह ने कहा है कि गुजरात चुनाव में राजनीतिक फायदे के लिए मोदी बोल रहे हैं और झूठ फैला रहे हैं। मनमोहन सिंह ने यह भी कहा कि पीएम ने पार्टी के फायदे के लिए संवैधानिक पद की गरिमा का भी ख्याल नहीं रखा। उन्होंने कहा कि इसके लिए पीएम को माफी मांगनी चाहिए। कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने भी कहा कि गुजरात में ‘स्पष्ट हार’ देखकर प्रधानमंत्री निराश (फ्रस्टेट) हो गए हैं और खुद के प्रति सहानुभूति जगाने के लिए ‘खराब भाषा का इस्तेमाल कर रहे हैं।

रविवार को पीएम मोदी ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए सवाल किया था कि आखिर पाकिस्तान में सेना और इंटेलिजेंस में उच्च पदों पर रहे लोग गुजरात में अहमद पटेल को सीएम बनाने की मदद की बात क्यों कर रहे हैं? मोदी ने पूछा था कि आखिर इसके क्या मायने हैं?

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App