ताज़ा खबर
 

असदुद्दीन ओवैसी ने कहा- मुझे भी एक गाय दे बीजेपी, बड़े सम्‍मान के साथ रखूंगा

तेलंगाना में आगामी 7 दिसंबर को मतदान होगा। जबकि विधानसभा चुनाव के नतीजे 4 अन्य राज्यों के नतीजों के साथ ही 11 दिसंबर को आएंगे। तेलंगाना में मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने कार्यकाल पूरा होने से छह महीने पहले ही सरकार को बर्खास्त करके चुनाव करवाने की मांग की थी।

एमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी

एआईएमआईएम के मुखिया असदुद्दीन ओवैसी ने तेलंगाना में भाजपा के घोषणापत्र पर निशाना साधा है। ओवैसी ने तेलंगाना में चुनावों से पहले भाजपा पर वोटों के ध्रुवीकरण की कोशिश का आरोप लगाया है। भाजपा ने अपने घोषणापत्र में प्रदेश में चुनाव जीतने पर एक लाख गायों के वितरण का वादा किया था। ओवैसी ने भाजपा की इसी मांग पर तंज कसते हुए पूछा कि क्या भाजपा मुझे भी गाय देगी?

असदुद्दीन ओवैसी ने समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत में कहा,”भाजपा ने साल 2018 में हो रहे तेलंगाना विधानसभा चुनावों के लिए अपने चुनावी घोषणापत्र में वादा किया है कि वे राज्य में एक लाख गायें बांटेंगे। क्या वे मुझे भी एक गाय देंगे? मैं वादा करता हूं कि मैं उसे पूरी इज्जत के साथ रखूंगा, लेकिन सवाल यही है कि क्या वे मुझे देंगे? ये हंसने की बात नहीं है, सोचने की बात है।”

बता दें कि इससे पहले भी ओवैसी अपने विवादित बयानों के कारण चर्चा में रहे हैं। ओवैसी ने हाल ही में भाजपा पर मुस्लिम विरोधी होने का आरोप लगाया था। ओवैसी ने यहां तक कहा था कि भाजपा देश को कांग्रेस मुक्त नहीं बल्कि मुस्लिम मुक्त बनाना चाहती है। हैदराबाद से सांसद ओवैसी ने इस दौरान अपने बयान में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित भाई शाह पर भी निशाना साधा था।

वैसे बता दें कि तेलंगाना में आगामी 7 दिसंबर को मतदान होगा। जबकि विधानसभा चुनाव के नतीजे 4 अन्य राज्यों के नतीजों के साथ ही 11 दिसंबर को आएंगे। तेलंगाना में मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने कार्यकाल पूरा होने से छह महीने पहले ही सरकार को बर्खास्त करके चुनाव करवाने की मांग की थी। मुख्यमंत्री राव ने सितंबर 2018 में सरकार को बर्खास्त करने का फैसला किया था। मुख्यमंत्री केसीआर की अपील को राज्यपाल ने मंजूरी दी थी। तेलंगाना देश का सबसे नया राज्य है। 2014 में आंध्रप्रदेश के बंटवारे के बाद 29वें राज्य के रूप में तेलंगाना का गठन हुआ था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App