ताज़ा खबर
 

अरविंद केजरीवाल: अगर गलत हूं तो मुझे गिरफ्तार करे सरकार

आम आदमी पार्टी (आप) पर हवाला के जरिए चंदा लेने के वित्त मंत्री अरुण जेटली के आरोप पर आप नेता केजरीवाल ने उन्हें चुनौती दी है कि अगर उनके आरोप में सच्चाई है तो वे गिरफ्तार करके दिखाएं। भाजपा सरकार पर पलटवार करते हुए आप ने कहा कि हार के डर से भाजपा आप पर […]

आम आदमी पार्टी (आप) पर हवाला के जरिए चंदा लेने के वित्त मंत्री अरुण जेटली के आरोप पर आप नेता केजरीवाल ने उन्हें चुनौती दी है कि अगर उनके आरोप में सच्चाई है तो वे गिरफ्तार करके दिखाएं। भाजपा सरकार पर पलटवार करते हुए आप ने कहा कि हार के डर से भाजपा आप पर कीचड़ उछाल रही है। मंगलवार को एक संवाददाता सम्मेलन में आप नेताओं ने कहा कि पार्टी ने चंदे लेने से पहले निर्धारित तमाम सरकारी प्रावधानों का पालन किया। इसके बाद भी अगर कहीं गड़बड़ी है तो सरकार जांच करवाकर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करे।

वहीं आप नेता और दिल्ली के पूर्व मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि भाजपा शासित केंद्र सरकार के वित्त मंत्री ने हवाला से पैसे लेने जैसा गंभीर आरोप लगाया है। वित्त मंत्री बताएं कि क्या हवाला के पैसे चेक से आते हैं? उन्होंने कहा हमने भारतीय बैंकिंग प्रणाली में भरोसा करते हुए चेक से पैसे लिए हैं। अगर इसमें कोई गड़बड़ी की है तो वित्त मंत्री को इसकी जांच कराकर सबूतों के साथ आना चाहिए पूरी मशीनरी उनके हाथ में है।

वे राजनीतिक बयान क्यों दे रहे हैं? अगर साहस है तो गिरफ्तार कर दिखाएं। संवाददाता सम्मेलन में आप नेता योगेंद्र यादव ने कहा कि हमने सुप्रीम कोर्ट से मांग की है कि वह विशेष जांच दल गठित कर आप, भाजपा और कांग्रेस तीनों के खातों और उन्हें मिलने वाले चंदों की जांच करवाए और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करें।


आप ने भाजपा और कांग्रेस के अध्यक्ष को पत्र लिख कर इस मामले में सहमति देने की मांग की है। यादव ने कहा कि जब कोई पार्टी चंदा लेती है तो उसे कुछ तय प्रावधानों परअमल करना होता है। हमने भी उन तमाम प्रावधानों पर अमल किया है। हमने कैश नहीं चेक से यह चंदा लिया, हमने पैन नंबर देख कर चंदा लिया। कंपनी पंजीकृत है कि नहीं यह भी देख लिया। बैंक में खाते भी हैं।

इसके बाद जो भी पैसा मिला और जहां से मिला सब पारदर्शी तरीके से अपनी वेबसाइट पर डाल दिया। अगर हम गलत होते तो ब्योरा सार्वजनिक करने की बजाय चुपचाप टेबल के नीचे से पैसा लिया जाता। फि र भी गलत है तो हम इसकी जांच को तैयार हैं। उन्होंने इसके साथ ही भाजपा और कांग्रेस को मिले चंदों की भी जांच हो। दोषी मिलने वाली पार्टी की मान्यता रद्द हो। यादव ने कहा कि आप ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और भजपा अध्यक्ष अमित शाह को पत्र लिख कर उनकी पार्टियों को मिलने वाले चंदे की जांच सुप्रीम कोर्ट की निगरानी वाले विशेष जांच दल (एसआइटी) से कराने पर सहमती देने की मांग की है।

पार्टी के वरिष्ठ नेता आशुतोष ने बताया कि पार्टी के एक पांच सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने सुप्रीम कोर्ट के रजिस्ट्रार से मिलकर अपील की कि आप, कांग्रेस और भाजपा के आर्थिक स्रोतों की जांच के लिए एक विशेष जांच (एसआइटी) दल गठित किया जाए। प्रतिनिधिमंडल में आशुतोष के अलावा कुमार विश्वास, संजय सिंह, आशीष खेतान और योगेंद्र यादव शामिल थे। उन्होंने कहा कि अगर सुप्रीम कोर्ट ने पत्र का संज्ञान नहीं लिया तो, पार्टी जनहित याचिका दायर करेगी।

आप ने अलग हुए एक गुट ने आप वालंटियर्स एक्शन मंच (आवाम) नाम से एक संगटन बनाया है। इस संगठन ने सोमवार को आप पर फर्जी कंपनियों से कथित तौर पर दो करोड़ रुपए लेने का आरोप लगाया था।

इसके बाद जारी एक विज्ञापन में भाजपा ने आप पर फर्जी कंपनियों से चंदा लेने का आरोप लगाया है। इसके बाद अरुण जेटली के बयान से इस मामले ने तूल पकड़ ली।

आप नेता कुमार विश्वास ने आरोप लगाया है कि आवाम के पीछे भाजपा का हाथ है। वर्ना वह सारा ब्योरा जो बैंक हमें नहीं दे सकते वे उनके पास कैसे हैं? उन्होंने इसे भाजपा की साजिश बताया। इसी तरह पिछले चुनाव मे एक संस्था बाप पैदा हुई थी, उसने भी विदेशी चंदे का आरोप लगाया था। हम तो उसकी जांच के लिए भी तैयार थे। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार के गृह मंत्रालय ने अदालत को लिख कर हलफनाम दिया था कि आप के चंदे में आप के खिलाफ कोई कानूनी उल्लंघन का मामला नहीं बनता है। उन्होंने कहा कि इन आरोपों से आप की कुछ सीटों का नुकसान हुआ था। आरोप लगाने वाली की मंशा यही थी, जो पूरी हुई।

अरविंद केजरीवाल को चोर कहे जाने पर आप नेता संजय सिंह ने कहा कि भाजपा नेता निर्मला सीतारमण पढ़ी-लिखी महिला हैं, उनको ऐसी असंसदीय भाषा का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। लेकिन यह भाजपा की रणनीति है कि वह मुद्दों की जगह आरोप-प्रत्यारोप की राजनीति कर रही है। उसके नेता हार सामने देख कर बैखला गए हैं, इसलिए गाली-गलौज पर उतर आए हैं।

 

 

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 भाजपा के विज़न डॉक्यूमेंट में ‘पूर्वोत्तर के प्रवासी’ शब्द पर विवाद
2 ‘नरेंद्र मोदी की बीमार मानसिकता राष्ट्रीय चिंता का विषय’
3 ‘आप’ दानदाताओं का खुलासा करे, नहीं तो आंदोलन करेंगे: अवाम
ये पढ़ा क्या?
X