ताज़ा खबर
 

वीडियो: नोटबंदी पर पूछे सवाल तो बीबीसी के रिपोर्टर पर भड़के दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने बीबीसी की पत्रकारिता पर भी निशाना साधा।

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल। (Photo Source: Twitter/File)

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल नोटबंदी के फैसले को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर लगातार निशाना साध रहे हैं। हालही में केजरीवाल बीबीसी हिंदी को इंटरव्यू देते हुए बीबीसी के रिपोर्टर पर भड़क गए। रिपोर्टर ने उनसे पूछा था कि आप 55 मौतों को सीधे तौर पर नोटबंदी से कैसे जोड़ सकते हैं। इसके जवाब में केजरीवाल न कहा, ‘कुछ तुम्हारें साथी पत्रकारों के अंदर हिम्मत है और वे लाइनों में लगे लोगों से इस फैसले के बाद उन्हें हो रही परेशानियों के बारे में पूछ रहे हैं।’ तभी बीबीसी रिपोर्टर ने कहा कि यह काम तो एक पत्रकार के तौर पर वे भी कर रहे हैं। साथ ही रिपोर्टर ने कहा, ‘लेकिन यह हमारी जिम्मेदारी है कि झूठ को झूठ और सच को सच दिखाएं। हम लोग सीधे तौर पर इन मौतों को नोटबंदी से नहीं जोड़ सकते।’ इसके बाद केजरीवाल ने सीधे कैमरे की तरफ देखते हुए कहा, ‘ये जनता देख रही है कि बीबीसी वाले कितने ईमानदार हैं। नोटबंदी के बाद देश में 55 लोग मर गए हैं और बीबीसी कह रहा है कि हम नोटबंदी से इन्हें डायरेक्ट नहीं जोड़ सकते है। यह इनकी ईमानदार पत्रकारिता है।’

जब रिपोर्टर ने दखल देने की कोशिश की तो केजरीवाल ने अपनी आवाज ऊंची कर ली। साथ ही केजरीवाल ने कहा कि यह शर्म की बात है कि रिपोर्टर कह रहा है कि मौतों को नोटबंदी से नहीं जोड़ा जा सकता। उन्होंने कहा, ‘मुझे शर्म आती है कि आप जैसे पत्रकार ये कहते हैं कि उसको लिंक नहीं किया जा सकता। लोग मर रहे हैं, अखबार छाप रहे हैं, बिजनेस ठप हो गया, लोगों के पास खाने के लिए घरों में कुछ नहीं है और आप कह रहे हैं कि अभी उसकी जांच नहीं हुई।’

तभी इंटरव्यू लेने वाले रिपोर्टर ने कहा कि एक आप सांसद बीबीसी के दफ्तर आए थे, जब उनसे पूछा गया कि क्या आप नोट निकालने के लिए लाइन में लगे थे तो उन्होंने कहा कि उनका ड्राइवर उनके पैसे निकालकर लाया था। केजरीवाल ने जवाब दिया, ‘हां तो? आप क्या साबित करना चाहते हैं।? कि 55 लोग नहीं मरे।’ जब रिपोर्टर ने पूछा कि जो इस कदम की तारीफ कर रहे हैं उन्हें नजरअंदाज कैसे किया जा सकता है, तब केजरीवाल ने रिपोर्टर से ही पूछ डाला कि यह कदम किस तरह से फायदेमंद है। उन्होंने कहा, ‘धनवान लोगों को इस कदम से कोई तकलीफ नहीं हो रही है। जनार्दन रेड्डी, खनन घोटाने में जिनका नाम आया था के परिवार में एक शादी थी। मीडिया के मुताबिक उस शादी में 500 करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं। उन तक यह रकम कैसे पहुंची। इसका मतलब धनवानों के घर पर कैश पहुंचाया जा रहा है। वे लोग लाइनों में नहीं खड़े हैं।’

साथ ही केजरीवाल ने कहा कि लोगों को देशभक्ति के नाम पर मूर्ख बनाया जा रहा है। जब रिपोर्टर ने इंटरव्यू के दौरान कहा कि ये आरोप केजरीवाल का है। तो केजरीवल एक बार फिर पत्रकार पर भड़क गए। उन्होंने कहा कि आपको इस मुद्दे को ‘हल्का’ नहीं बनाना चाहिए। अगर तुम इंटरव्यू करना चाहते हैं तो इसे ढंग से करें।’

यहां देखें- अरविंद केजरीवाल का पूरा इंटरव्यू

Next Stories
1 JNU के लापता छात्र की मां को मिला पत्र, लिखा था- मैंने नजीब को अलीगढ़ की मार्केट में देखा
2 पुलिस कंट्रोल रूम में आई नरेंद्र मोदी के मर्डर की साजिश की कॉल, दो हिरासत में
3 अब भी कतार में कर रहे अपनी बारी का इंतजार
यह पढ़ा क्या?
X