ताज़ा खबर
 

NPR: अरुंधति रॉय बोलीं- डेटा मांगने वालों को अपना नाम बताएं रंगा व बिल्ला, शिवराज का पलटवार- पहले ऐसे ‘बुद्धिजीवियों’ का बने रजिस्टर

अरुंधति रॉय ने एनआरसी- सीएए के खिलाफ बोलते हुए कहा कि जब सरकारी कर्मचारी नाम पूछने आएं तो उनको रंगा-बिल्ला या गलत नाम बताएं और अगर पता पूछा जाए तो वह 7 रेस कोर्स रोड बताएं।

अरुंधति रॉय, ने CAA के विरोध में आवाज उठायी।

एनपीआर (NPR) यानी नेशनल पॉपुलेशन रजिस्टर को लेकर लेखिका और सामाजिक कार्यकर्ता अरुंधति रॉय के एक बयान से विवाद खड़ा हो गया है। नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और एनआरसी (NRC) के खिलाफ विरोध प्रदर्शन में शामिल रॉय ने कहा कि जब अधिकारी एनपीआर के लिए आपका डेटा लेने के लिए आपके घर आएं तो आप अपना नाम और पता गलत बता दीजिए। इस मुद्दे पर बीजेपी की ओर से शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि अगर यही हमारे देश के बुद्धिजीवी है तो पहले हमें ऐसे ‘बुद्धिजीवियों’ का रजिस्टर बनाना चाहिए।

एनपीआर पर किया कमेंट: अरुंधती राय ने बुधवार (25 दिसंबर) को केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि ‘एनपीआर भी एनआरसी का ही पार्ट है। NPR के लिए जब सरकारी कर्मचारी जानकारी मांगने आपके घर आएं तो उन्हें अपना नाम रंगा- बिल्ला बताना और अपने घर का पता पीएम के घर का पता लिखवाना।’ फिलहाल उनके इस बयान की बीजेपी ने निंदा की है।

Hindi News Today, 25 December 2019 LIVE Updates: देश की बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

केंद्र सरकार पर बोला हमला: अरुंधती राय ने कहा कि देश में डिटेंशन सेंटर के मुद्दे पर केंद्र सरकार झूठ बोल रही है। पीएम (नरेंद्र मोदी) ने इस मुद्दे पर देश के सामने गलत तथ्य पेश किए। उन्होंने कहा कि कॉलेजों में पढ़ने वाले छात्र जब सरकार के खिलाफ आवाज उठाते हैं तो इन छात्रों को अर्बन नक्सल कहा जाता है।

शिवराज का पलटवार: बीजेपी नेता शिवराज चौहान ने कहा, “अगर यही हमारे देश के बुद्धिजीवी है तो पहले हमें ऐसे ‘बुद्धिजीवियों’ का रजिस्टर बनाना चाहिए! वैसे उन्होंने ने अपना नाम तो बता ही दिया, साथ में ये भी बता दिया कि उन्हें कंग-फ़ू की भी जानकारी है। अरुंधती जी को शर्म आनी चाहिए! ऐसे बयान देश के साथ विश्वासघात नहीं है तो क्या है?”

Next Stories
1 JK के उरी में पाकिस्तान की फायरिंग, 1 जवान शहीद, महिला समेत 2 नागरिकों की मौत
2 BHU में पढ़ाई जाएगी ‘भूत विद्या’, 6 माह का रहेगा सर्टिफिकेट कोर्स; जानें फीस, दाखिले की प्रक्रिया और बाकी डिटेल्स
3 CAA हिंसा: रामपुर में 25 लाख रुपए वसूली के लिए 28 लोगों को भेजा नोटिस, CM योगी के ‘बदला’ वाले बयान के बाद नुकसान की भरपाई शुरू
ये पढ़ा क्या?
X