scorecardresearch

अरुणाचल प्रदेश के सीएम और भाजपा नेता पेमा खांडू बोले- मैं भी खाता हूं बीफ, इसमें कुछ गलत नहीं

उन्होंने कहा कि वह केंद्र के नोटिफिकेशन का समर्थन नहीं करते हैं, खासकर ऐसे प्रदेशों में जहां बीफ खाने वाले लोग रहते हैं।

अरुणाचल प्रदेश के सीएम और भाजपा नेता पेमा खांडू बोले- मैं भी खाता हूं बीफ, इसमें कुछ गलत नहीं
अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री और भाजपा नेता पेमा खांडू

अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री और भाजपा नेता पेमा खांडू ने कहा है कि वह केंद्र सरकार के बूचड़खानों के लिए पुश बिक्री पर रोक लगाने संबंधि नोटिफिकेशन का समर्थन नहीं करते हैं, खासकर ऐसे प्रदेशों में जहां बीफ खाने वाले लोग रहते हैं। उन्होंने अंग्रेजी न्यूज चैनल CNN-News18 को दिए इंटरव्यू में कहा कि केंद्र को वध के लिए पशुओं की खरीद-फरोख्त पर पाबंदी लगाने वाले नोटिफिकेशन पर फिर से विचार करना चाहिए। सीएम ने कहा कि वह खुद भी बीफ खाते हैं और ऐसा करने में कुछ भी गलत नहीं है।

हालांकि पेमा खांडू ने यह भी कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार इस मामले में काफी संवेदनशील है। उन्होंने भाजपा के वरिष्ठ नेता वैंकेया नायडू के बयान का भी जिक्र किया। खांडू ने कहा कि वैंकेया नायडू ने कहा है कि वह अलग-अलग राज्यों के मुख्यमंत्रियों से इस बारे में बात करेंगे और पशु बिक्री पर लगी रोक पर फिर से विचार किया जाएगा। खांडू ने कहा, “सिर्फ अरुणाचल प्रदेश ही नहीं, पूरा नॉर्थईस्ट ही आदिवासी बहुल क्षेत्र है जहां अधिकतर लोग नॉन-वेज खाते हैं।”

बता दें कि 26 मई को पर्यावरण मंत्रालय ने पशु क्रूरता निरोधक अधिनियम के तहत सख्त ‘पशु क्रूरता निरोधक (पशुधन बाजार नियमन) नियम, 2017’ को अधिसूचित किया था। अधिसूचना के मुताबिक पशु बाजार समिति के सदस्य सचिव को यह सुनिश्चित करना होगा कि कोई भी शख्स बाजार में अवयस्क पशु को बिक्री के लिये न लेकर आये। ‘‘किसी भी शख्स को पशु बाजार में मवेशी को लाने की इजाजत नहीं होगी जबतक कि वहां पहुंचने पर वह पशु के मालिक द्वारा हस्ताक्षरित यह लिखित घोषणा-पत्र न दे दे जिसमें मवेशी के मालिक का नाम और पता हो और फोटो पहचान-पत्र की एक प्रति भी लगी हो।’’

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.