ताज़ा खबर
 

Arun Jaitley Health Highlights: AIIMS के कहां और किस हालत में हैं अरुण जेटली? जानिए यहां

Arun Jaitley Health: जेटली को नौ अगस्त को सांस लेने में परेशानी और बेचैनी होने की शिकायत के बाद एम्स में भर्ती कराया गया था। फिलहाल उन्हें जीवन रक्षक प्रणाली पर रखा गया है।

Author नई दिल्ली | Updated: Aug 22, 2019 14:02 pm
अरुण जेटली को सांस लेने में दिक्कत और बेचैनी की शिकायत के बाद AIIMS में भर्ती कराया गया था। (फाइल फोटो)

Arun Jaitley Health Highlights: पूर्व वित्त मंत्री और बीजेपी के दिग्गज नेता अरुण जेटली का स्वास्थ्य फिलहाल स्थिर है। उन्हें नई दिल्ली के एम्स अस्पताल में लाइफ सपोर्ट सिस्टम (एलएसएस) पर रखा गया है। नौ अगस्त, 2019 को सांस में तकलीफ और बेचैनी महसूस होने के बाद उन्हें यहां लाया गया था।

जेटली के वहां भर्ती होने के बाद रात को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह भी उनका हाल जानने एम्स पहुंचे थे। बता दें कि लाइफ सपोर्ट सिस्टम के जरिए किसी व्यक्ति के शरीर में कृत्रिम रुप से ऑक्सीजन पहुंचाई जाती है। यह सिस्टम तब लगाया जाता है, जब मरीज के फेफड़े ठीक से काम नहीं करते।

Live Blog

Highlights

    05:41 (IST)22 Aug 2019
    महंगी कलम, घड़ी और आलीशान कारों के शौकीन हैं जेटली

    जेटली ने ‘तीन तलाक’ विधेयक पर सरकार का दृष्टिकोण सार्वजनिक किया था। मोदी सरकार के वित्त विभाग की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी के साथ सरकार के प्रवक्ता और बीजेपी-एनडीए के पुरोधा की भूमिका निभाते हुए भी महंगी कलम, घड़ी और आलीशान कारों का उनका शौक कम नहीं हुआ। सरकार में प्रधानमंत्री के साथ रसूख के अधार पर देखें तो जेटली एक तरह से उसमें नंबर-2 के महत्वपूर्ण किरदार नजर आते थे। 

    02:59 (IST)22 Aug 2019
    बीजेपी के हर मामले में जेटली आगे दिखते रहे जेटली

    सरकार की नीतियों और योजनाओं का बखान हो या विपक्ष की आलोचनाओं के तीर को काटने की जरूरत, हर मामले में जेटली आगे दिखते थे। जेटली ने 2019 के आम चुनाव को जिस तरह ‘स्थिरता और अराजकता’ के रूप में निरूपित कर BJP-NDA अभियान को एक कारगर हथियार दिया वह उनकी राजनीतिक समझ के पैनेपन का एक उदाहरण है। 

    02:35 (IST)22 Aug 2019
    मोदी के वास्तविक ‘चाणक्य’ माने जाते हैं जेटली

    जेटली को कुछ लोग मोदी के वास्तविक ‘चाणक्य’ और 2002 में गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में मोदी के कार्यकाल के शुरू में प्रदेश में दंगों के बाद उनके ‘संकट के साथी’ कहते हैं। जेटली की तरीफ में मोदी उन्हें‘बेशकीमती हीरा’ भी बता चुके हैं। दिल्ली विश्वविद्यालय के छात्र संघ की राजनीति से मुख्यधारा की राजनीति में प्रवेश करने वाले जेटली पेशे से अधिवक्ता रहे हैं।

    23:24 (IST)21 Aug 2019
    पिछले माह की सरकारी बंगले से दूसरी जगह शिफ्ट हुए थे जेटली

    बीते माह जुलाई में पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने अपना 2, कृष्णा मेनन मार्ग स्थित सरकारी बंगला खाली किया था। तब भी उनकी सेहत ठीक नहीं थी।  बता दें कि मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में नई मंत्रिपरिषद के शपथ ग्रहण समारोह से एक दिन पहले 29 मई को पूर्व वित्त मंत्री जेटली ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर कहा था कि वह स्वास्थ्य कारणों से नई सरकार में मंत्री नहीं बनना चाहते।

    18:32 (IST)21 Aug 2019
    'BJP सांसद ने अर्थव्यवस्वस्था की सुस्ती के लिए जेटली को ठहराया था जिम्मेदार'

    भाजपा सांसद ने अर्थव्यवस्था की सुस्ती के लिए पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली को जिम्मेदार ठहराया है। वहीं, एम्स में पूर्व वित्त मंत्री जेटली का हालत बेहद नाजुक बनी हुई है। इस बीच भाजपा सांसद ने कहा कि अब देश की अर्थव्यवस्था को...पढ़ें खबर।

    17:38 (IST)21 Aug 2019
    गडकरी, जावड़ेकर भी पहुंचे थे AIIMS

    मंगलवार को केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी और प्रकाश जावड़ेकर सहित कई नेताओं ने दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्था (एम्स) जाकर पूर्व वित्तमंत्री अरुण जेटली की सेहत की जानकारी ली।

    15:54 (IST)21 Aug 2019
    LK आडवाणी भी पहुंचे थे हाल जानने AIIMS

    सोमवार को भाजपा के वयोवृद्ध नेता लाल कृष्ण आडवाणी, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी, दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल और भाजपा सांसद मेनका गांधी ने भी एम्स जाकर जेटली की सेहत की जानकारी ली थी।

    15:26 (IST)21 Aug 2019
    बीते साल हुआ था गुर्दा प्रत्यारोपण

    अरुण जेटली की बीते साल गुर्दा प्रत्यारोपण की सर्जरी की गई थी। इसके चलते जेटली काफी दिनों तक मंत्रालय से भी दूर रहे थे और उनकी अनुपस्थिति में पीयूष गोयल ने वित्त मंत्रालय का प्रभार संभाला था। 

    14:38 (IST)21 Aug 2019
    राज्यसभा में विपक्ष के नेता की जिम्मेदारी संभाली

    अरुण जेटली ने साल 2014 से लेकर साल 2018 तक राज्यसभा में विपक्ष के नेता की जिम्मेदारी बखूबी निभायी। 

    13:57 (IST)21 Aug 2019
    Insolvency and Bankruptcy Code को किया लागू

    अरुण जेटली के वित्त मंत्री रहते हुए ही Insolvency and Bankruptcy Code लागू किया गया। आज कॉरपोरेट सेक्टर में यह कानून काफी अहम रोल निभा रहा है।

    12:47 (IST)21 Aug 2019
    अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से रहा है जुड़ाव

    भाजपा के कई नेताओं की तरह अरुण जेटली भी पार्टी की छात्र शाखा एबीवीपी से जुड़े रहे हैं। साल 1974 में अरुण जेटली दिल्ली यूनिवर्सिटी में छात्र संघ के अध्यक्ष भी चुने गए थे। 

    12:05 (IST)21 Aug 2019
    1980 में भाजपा में हुए शामिल

    अरुण जेटली भाजपा के वरिष्ठ नेताओं में शुमार किए जाते हैं। जेटली साल 1980 में भाजपा में शामिल हुए और साल 1991 में पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में शामिल किए गए। 

    11:18 (IST)21 Aug 2019
    जेटली की हालत नाजुक लेकिन स्थिर

    अरुण जेटली की हालत नाजुक बनी हुई है, लेकिन अच्छी बात ये है कि उनकी हालत स्थिर है। फिलहाल डॉक्टर उनके स्वास्थ्य में सुधार के लिए लगातार प्रयास कर रहे हैं। 

    10:20 (IST)21 Aug 2019
    पश्चिम बंगाल के राज्यपाल भी पहुंचे जेटली का हाल जानने

    पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनकर मंगलवार को अरुण जेटली का हाल जानने एम्स अस्पताल पहुंचे। इस दौरान राज्यपाल धनकर का परिवार भी उनके साथ था। राज्यपाल ने डॉक्टरों से जेटली के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली और उनके जल्द ठीक होने की कामना की।

    09:25 (IST)21 Aug 2019
    कृत्रिम रुप से जेटली के शरीर में पहुंचायी जा रही ऑक्सीजन

    अरुण जेटली के शरीर में ऑक्सीजन की प्राकृतिक रुप नहीं पहुंच पा रही है, ऐसे में डॉक्टरों की टीम जीवन रक्षक प्रणाली के जरिए कृत्रिम रुप से उनके शरीर में ऑक्सीजन पहुंचा रही है। 

    08:25 (IST)21 Aug 2019
    लालकृष्ण आडवाणी, मेनका गांधी समेत इन नेताओं ने जाना हाल

    सोमवार को भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत, यूपी की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल, बिहार के उप-मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी और भाजपा सांसद मेनका गांधी समेत कई नेता अरुण जेटली का हालचाल जानने एम्स पहुंचे थे।

    07:35 (IST)21 Aug 2019
    अरुण जेटली की हालत में नहीं आया कोई सुधार

    अरुण जेटली की हालत अभी भी नाजुक लेकिन स्थिर बनी हुई है और उसमें अभी तक कोई सुधार नजर नहीं आ रहा है। वहीं कई बड़े नेताओं का एम्स जाना लगातार जारी है। 

    Next Stories
    1 Indian Railway: दो तेजस ट्रेनें चलाएगा आइआरसीटीसी
    2 सोशल मीडिया प्रोफाइल आधार से जोड़ने पर सुप्रीम कोर्ट करेगा सुनवाई
    3 मस्जिद बनाने के लिए हिंदू मंदिर गिराया गया