ताज़ा खबर
 

आर्टिकल 370: UNSC में मुंह की खाने के बाद अब ICJ में जम्मू और कश्मीर मुद्दा उठाएगा बौखलाया पाकिस्तान

Article 370 & Jammu and Kashmir Row: 'एआरवाई न्यूज टीवी' से पाक के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरेशी बोले कि उनकी सरकार ने कश्मीर मसला आईसीजे में उठाने का फैसला लिया है। यह निर्णय सभी जरूरी कानूनी पहलुओं पर विचार करने के बाद लिया गया है।

Author नई दिल्ली | Updated: August 20, 2019 8:15 PM
संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की बैठक में कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान के साथ चीन को भी झटका लगा था। (प्रतीकात्मक फोटो)

Article 370 & Jammu and Kashmir Row: संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) में चीन के साथ बुरी तरह मुंह की खाने के बाद भी पाकिस्तान अपनी आदतों से बाज नहीं आ रहा। जम्मू और कश्मीर में आर्टिकल 370 के ज्यादातर प्रावधान खत्म किए जाने के मसले को अब वह इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस (ICJ) में उठाएगा। मंगलवार (20 अगस्त, 2019) को यह फैसला वहां के प्रधानमंत्री इमरान खान के नेतृत्व वाली सरकार ने लिया है।

पाकिस्तानी मीडिया के हवाले से समाचार एजेंसी एएनआई ने बताया कि पाक सरकार ने यह मामला आईसीजे में उठाने पर आम सहमति बनाई है। ‘एआरवाई न्यूज टीवी’ से पाक के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरेशी बोले कि उनकी सरकार ने कश्मीर मसला आईसीजे में उठाने का फैसला लिया है। यह निर्णय सभी जरूरी कानूनी पहलुओं पर विचार करने के बाद लिया गया है।

इसी बीच, अमेरिकी रक्षा मंत्री ने उम्मीद जताई है कि भारत-पाकिस्तान के बीच मुद्दे द्विपक्षीय तरीके से सुलझाए जाएंगे। पाकिस्तानी पीएम इमरान खान हाल ही में वहां की संसद में जोर देते हुए कहा था कि वह मंच पर कश्मीर मुद्दा उठाएंगे।

बता दें कि भारत और पाकिस्तान के बीते कुछ समय से तल्ख रिश्ते तब और खराब हो गए थे, जब मोदी सरकार ने अगस्त की शुरुआत में जम्मू और कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले भारतीय संविधान के अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधान खत्म कर दिए थे। जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल के तहत केंद्र ने इसे दो केंद्र शासित प्रदेशों (जम्मू-कश्मीर और लद्दाख) में विभाजित किया है।

PAK पीएम से बोले US राष्ट्रपति- JK पर भारत के खिलाफ संभल कर बोलें: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने जम्मू और कश्मीर और कुछ अन्य मुद्दों को लेकर सोमवार को पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान से फोन पर बात की। ट्रम्प ने इस दौरान उन्हें भारत के खिलाफ बयानबाजी में एहतियात बरतने के लिए कहा।

ट्रम्प ने इसके साथ ही हालात ‘‘मुश्किल’’ बताए और दोनों पक्षों से संयम बरतने के लिए। हालांकि, ट्रम्प की इससे कुछ देर पहले भारतीय पीएम नरेंद्र मोदी से लगभग आधा घंटे बातचीत हुई थी, जिसमें मोदी ने पाक नेताओं द्वारा ‘‘भारत विरोधी हिंसा के लिए उग्र बयानबाजी और उकसावे’’ का मुद्दा उठाया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 अयोध्या केस: SC में बोले रामलला के वकील- बाबरी से पहले हिंदू निर्माण के हैं सबूत
2 Aadhaar Card से लिंक होगा Facebook, Twitter और Instagram अकाउंट? कोर्ट पहुंचा मामला
3 मध्य प्रदेश में अफगान आतंकियों की मौजूदगी की खबर से हड़कंप, बड़े पैमाने पर छेड़ा गया सर्च ऑपरेशन