ताज़ा खबर
 

खतरे में है भारत, घुसपैठ की फिराक में हैं 300 आतंकी, ISI कर रही मदद

आतंकी याकूब मेमन के बाद जहां देश को दाऊद जैसे खूखार आतंकी से खतरा है तो वहीं दूसरी ओर ये भी खबरें आ रही हैं कि भारत में घुसपैठ के लिए करीब 300 आतंकवादी मौके की फिराक में बैठे हैं।

खतरे में है भारत, घुसपैठ की फिराक में हैं 300 आतंकी, ISI कर रही मदद

आतंकी याकूब मेमन के बाद जहां देश को दाऊद जैसे खूखार आतंकी से खतरा है तो वहीं दूसरी ओर ये भी खबरें आ रही हैं कि भारत में घुसपैठ के लिए करीब 300 आतंकवादी मौके की फिराक में बैठे हैं।

जैसे ही उन्हें मौका मिलेगा वे अपनी दहशत फैला देंग। जी हां, मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, लश्कर-ए-तैयाब और जैश-ए-मोहम्मद जैसे खतरनाक आतंकवादी संगठन POK (पाक अधिकृत कश्मीर) से भारत में घुसपैठ की फिराक लगाए हुए हैं।

इन आतंकियों को दङसत फैलाने के लिए POK में पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ISI और पाक सेना के सहयोग से 17 आतंकवादी शिविर चलाए जा रहे हैं। गौरतलब है कि ISI ने दाऊद को भी कराची ने मोरी में शिफ्ट करने में सहायता प्रदान की है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, खुफिया एजेंसियों के पास आईएसआई और सेना के सहयोग से चलने वाले इन आतंकी शिविरों के बारे में विस्तृत सूचना है। इनक पास इसकी जानकारी है कि कौन-सा शिविर पाकिस्तानी सेना की किस इकाई के प्रत्यक्ष निरीक्षण में है और हर शिविर में कितने लोग हैं।

सरकारी सूत्रों के मुताबिक, यह सूचना उस डोजियर का हिस्सा है जिसे भारत ने पाकिस्तान को सौंपने के लिए तैयार किया था। इस डोजियार को राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल अपने पाकिस्तानी समकक्ष सरताज अजीज को सौंपेने वाले थे, लेकिन एनएसए स्तर की वार्ता रद्द हो गई थी।

भारत भले ही पाक से दोस्ती का हाथ बढ़ाए लेकिन वहां पर हमारे देश में दहशत फैलाने की ट्रैनिंग दी जा रही है। वहीं दूसरी ओर हर रोज पाक की ओर से सीजफायर किया जा रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App