ताज़ा खबर
 

ABVP के खिलाफ गुरमेहर की लड़ाई को आगे बढ़ाना चाहते हैं पूर्व सैनिक, धमकियों से परेशान मां चाहती हैं विवाद का अंत

पंजाब स्टेट एक्स-सर्विसमैन वेलफेयर एसोसिएशन (सेवा) के अध्यक्ष रिटायर्ड कर्नल कुलदीप सिंह ग्रेवाल गुरमेहर की लड़ाई को कानूनी तरह से गुरमेहर की लड़ाई को आगे ले जाना चाहते हैं।

Author नई दिल्ली | February 28, 2017 8:09 PM
दिल्‍ली यूनिवर्सिटी के रामजस कॉलेज में हिंसा के बाद एबीवीपी के खिलाफ सोशल मी‍डिया पर कैंपेन चलाने वाली गुरमेहर कौर का कहना है कि उन्‍हें रेप की धमकियां दी जा रही है।

एबीवीपी के खिलाफ सोशल मीडिया पर अभियान चलाकर सुर्खियों में आई कारगिल शहीद मनदीप सिंह की बेटी गुरमेहर कौर की ओर से उनकी लड़ाई को पंजाब के पूर्व सैनिक कानूनी तौर पर आगे ले जाना चाहते हैं। हालांकि 20 साल की डीयू स्टूडेंट गुरुमेहर कौर की मां एबीवीपी के खिलाफ शुरू की गई बेटी की लड़ाई को खत्म करना चाहती है। वह बेटी को मिली रेप की धमकियों से परेशान हैं। राजविंदर कौर से जब इस संबंध में संपर्क किया गया तो उन्होंने कहा, “मैं इस विवाद को और आगे नहीं ले जाना चाहती हूं।”

पंजाब स्टेट एक्स-सर्विसमैन वेलफेयर एसोसिएशन (सेवा) के अध्यक्ष रिटायर्ड कर्नल कुलदीप सिंह ग्रेवाल ने कहा कि कानूनी तरह से गुरमेहर की लड़ाई को आगे ले जाना चाहते हैं। गुरमेहर का विचार सम्मान करने योग्य है क्योंकि हर किसी को अपनी आवाज उठाने का अधिकार है। उन्होंने कहा कि जब बेटी के साथ रेप की धमकी दी जाती है तो कोई भी प्रभावित हुए बिना नहीं रह सकता। एसोसिएशन के सदस्य रिटायर्ड कर्नल तेजिंदर सिंह बाजवा ने कहा कि देश के लोगों को शहीद की बेटी की रक्षा के लिए आवाज उठानी चाहिए।

रिटायर्ड शहीद कैप्टन मनदीप सिंह के भाई और गुरमेहर के अंकल ने कहा कि अगर उनका भाई (शहीद मनदीप सिंह) होता तो गुरमेहर के सामने चट्टान की तरह खड़ा होता। गुरमेहर ने ऐसा कुछ भी नहीं कहा जो कि देश के खिलाफ हो। इस दौरान एक्स-सर्विसमैन और कुछ संगठनों के प्रतिनिधियों ने गुरमेहर को दी रेप की धमकी की निंदा करते हुए दिल्ली सरकार से उसे (गुरमेहर) विधिवत्त सुरक्षा देने की अपील की है।

गौरतलब है कि रामजस कॉलेज विवाद मामले में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) पर सोशल मीडिया के जरिए टिप्पणी करने के बाद गुरमेहर कौर को सोशल मीडिया और अन्य माध्यमों से रेप की धमकियां मिल रही थी। जिसकी शिकायत उन्होंने सोमवार को दिल्ली महिला आयोग (DCW) में भी की थी। मंगलवार को गुरमेहर कौर के समर्थन में दिल्ली यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर और छात्रों ने प्रोटेस्ट मार्च निकालने का फैसला किया था। लेकिन गुरमेहर कौर ने इस अभियान से अलग होने का फैसला किया है और कहा है कि उन्हें अकेला छोड़ दिया जाए।

वीडियो: DU बचाओ कैंपेन से अलग हुई गुरमेहर कौर; कहा- "मुझे अकेला छोड़ दो"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App