ताज़ा खबर
 

सेना प्रमुख बिपिन रावत ने कहा- भारतीय सेना “ढाई जंग” एक साथ लड़ने के लिए पूरी तरह तैयार, जल्द सुधरेंगे कश्मीर में हालात

सेना प्रमुख बिपिन रावत के अनुसार पाकिस्तान सोशल मीडिया पर मिथ्याप्रचार करके कश्मीरी नौजवानों को बरगला रहा है।

भारतीय सेना प्रमुख बिपिन रावत। (फाइल फोटो)

भारतीय सेना प्रमुख बिपिन रावत ने कहा है कि भारत ढाई जंग एक साथ लड़ने के लिए पूरी तरह तैयार है। समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार सेना प्रमुख रावत ने कहा है कि भारत ढाई युद्ध (चीन, पाकिस्तान और आंतरिक सुरक्षा से जुड़ी जरूरतें) एक साथ लड़ने के लिए पूरी तरह तैयार है। सेना प्रमुख रावत ने कहा कि भारतीय सेना के आधुनिकीकरण का मुद्दा वो नरेंद्र मोदी सरकार से उठाते रहते हैं और इस दिशा में अच्छी प्रगति हो रही है। सेना प्रमुख के अनुसार भारतीय सेना का आयुध अनपात संतुलित है। सेना प्रमुख रावत ने कहा कि भारतीय सेना में 30 प्रतिशत आयुध पुराने पड़ चुके हैं, 40 प्रतिशत पुराने होने वाले हैं और 30 प्रतिशत आधुनिक हैं।

कश्मीर के मसले पर टिप्पणी करते हुए सेना प्रमुख रावत ने कहा कि घाटी में हालात जल्द बेहतर होंगे। सेना प्रमुख रावत के अनुसार पाकिस्तान सोशल मीडिया पर मिथ्याप्रचार करके कश्मीरी नौजवानों को बरगला रहा है। सेना प्रमुख रावत ने कहा कि पाकिस्तान जाली वीडियो और झूठे मैसेज से कश्मीरी नौजवानों को गलत सूचनाएं दे रहा है। सेना प्रमुख के अनुसार कश्मीर में रहने वाले कुछ लोग पाकिस्तान की इसमें मदद करते हैं और इन चीजों का प्रचार करते हैं। सेना प्रमुख ने कहा कि कश्मीर में कुछ लोग आतंकवादी संगठनों से जुड़ने वाले कम उम्र के नौजवानों का महिमंडन करते हैं।

कश्मीर में पिछले कुछ सालों में उग्रवाद और आतंकवाद के रास्ते पर जाने वाले नौजवानों द्वारा सोशल मीडिया के इस्तेमाल का चलन तेजी से बढ़ा है। पिछले साल जुलाई में मुठभेड़ में हिज्बुल मुजाहिद्दीन के आतंकवादी बुरहान वानी के मारे जाने के बाद कश्मीर में हिंसा का सिलसिला शुरू हो गया जो अभी तक थमा नहीं है। बुरहान सोशल मीडिया पर अपने साथियों के साथ तस्वीरें और वीडियो शेयर करता था। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार सोशल मीडिया पर बुरहान की लोकप्रियता की वजह से दक्षिणी कश्मीर में उग्रवाद के रास्ते पर जाने वाले नौजवानों की संख्या में इजाफा हुआ है। बुरहान के मारे जाने के बाद कश्मीर में 65 युवा उग्रवादी बन चुके हैं जिनमें से 50 दक्षिणी कश्मीर के हैं जहां का बुरहान रहने वाला था।

वीडियो- अब गोलीबारी की तो भारतीय सेना गोलियां नहीं गिनेगी: राजनाथ सिंह

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App