ताज़ा खबर
 

मेजर गोगोई पर आर्मी चीफ का बड़ा बयान, कहा- यदि किसी अपराध के दोषी हुए तो होगी कड़ी सजा

सेना प्रमुख बिपिन रावत ने आज कहा कि यदि मेजर लीतुल गोगोई ‘किसी अपराध’ के दोषी पाये जाते हैं तो उन्हें कड़ी सजा दी जाएगी।

Author नई दिल्ली | May 25, 2018 4:33 PM
आर्मी चीफ बिपिन रावत

सेना प्रमुख बिपिन रावत ने आज कहा कि यदि मेजर लीतुल गोगोई ‘किसी अपराध’ के दोषी पाये जाते हैं तो उन्हें कड़ी सजा दी जाएगी। एक पुलिस अधिकारी के अनुसार 23 मई को श्रीनगर में जब मेजर गोगोई 18 साल की एक महिला के साथ किसी होटल में घुसने की कोशिश कर रहे थे तब कहासुनी होने पर उन्हें पुलिस ने कुछ समय के लिए हिरासत में लिया था।
रावत ने आर्मी गुडविल स्कूल जाते समय पहलगाम में संवाददाताओं से कहा, ‘‘यदि भारतीय सेना का कोई भी अधिकारी किसी भी अपराध का दोषी पाया जाता है तो हम कड़ी से कड़ी कार्रवाई करेंगे।’’ उन्होंने कहा, ‘‘यदि मेजर गोगोई ने कुछ गलत किया है तो मैं आपको आश्वासन देता हूं कि उन्हें जल्द से जल्द सजा दी जाएगी। यह सजा एक मिसाल कायम करेगी।’’ जम्मू कश्मीर पुलिस ने गोगोई से जुड़ी इस घटना की जांच शुरु कर दी है। पिछले साल कश्मीर में अपने वाहन के बोनट पर एक नागरिक को बांधने के मेजर गोगोई के फैसले पर विवाद खड़ा हो गया था।

आपको बता दें कि जम्मू-कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर के एक होटल में एक युवती के साथ पकड़े गए सेना के मेजर लितुल गोगोई पर युवती की मां ने गंभीर आरोप लगाए हैं। होटल में बवाल की घटना के एक दिन बाद युवती की मां ने गुरुवार (24 मई) को बडगाम जिला स्थित अपने गांव में कहा कि मेजर गोगोई कुछ दिनों पहले रात में दो बार मेरे घर रेड डालने आए थे। महिला ने कहा कि दोनों बार मेजर गोगोई के साथ समीर अहमद नाम का शख्स भी था।

उन लोगों ने किसी से रेड मारने की घटना शेयर करने से मना किया था। महिला ने बताया कि उसकी +बेटी एक स्वयं सहायता ग्रुप से जुड़ी हुई है। बुधवार को उसने कुछ पैसे बैंक में जमा करने की बात कही थी। यही कहकर वो घर से बाहर गई थी लेकिन वापस नहीं लौटी।  महिला ने बताया कि ङर से बाहर जाने से पहले उसकी बेटी ने अपने सारे डॉक्यूमेंट्स भी साथ रखे थे। महिला ने बताया कि श्रीनगर में होने की बात उसे तब पता चली जब पुलिस का फोन आया। महिला का दावा है कि उसकी बेटी की उम्र 17 साल है जबकि पुलिस उसे वयस्क बता रही है।

बता दें कि मेजर गोगोई पिछले साल चर्चा में तब आए थे जब उन्होंने पत्थरबाजों से बचने के लिए एक युवक को जीप के बोनट पर बांधकर दर्जनों गांव में घुमाया था। तब इनकी खूब आलोचना हुई थी। बुधवार (23 मई) को मेजर गोगोई और समीर अहमद श्रीनगर के होटल ग्रैंड ममता में होटलकर्मियों से झगड़ा करते दिखे थे। इन दोनों के साथ एक युवती भी थी। होटलकर्मी ने उन्हें शक होने पर होटल में घुसने देने से इनकार कर दिया था। गोगोई ने अपने नाम पर कमरा बुक कराया था। बहस के बाद होटलकर्मी ने स्थानीय पुलिस को बुला लिया था, जिसके बाद पुलिस ने तीनों को हिरासत में ले लिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App