ताज़ा खबर
 

UP के शहरी गरीबों को कम किराए पर मकान देने के लिए ‘ARHC’ को मंजूरी, जानें- किसे-किसे मिलेगा लाभ?

इस योजना से शहरी प्रवासी/गरीब मजदूर, आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग, निम्न आय वर्ग के व्यक्ति, जिसमें फैक्ट्री में कार्य करने वाले मजदूर, प्रवासी मजदूर, शिक्षण संस्थाओं, सत्कार कार्यां से जुड़े लोग, पर्यटक एवं छात्र लाभार्थी होंगे।

Author नई दिल्ली | Updated: March 26, 2021 2:30 PM
yogi adityanath , BJP , love jihadउत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (फोटो – पीटीआई)

उत्तर प्रदेश सरकार शहरी गरीबों के लिए ‘किफायती रेंटल हाउसिंग एंड कॉम्प्लेक्सेज’ (एआरएचसी) योजना शुरू करने जा रही है जिसके प्रस्ताव को मंत्रिपरिषद ने मंजूरी दे दी है। यहां जारी सरकारी बयान के अनुसार बृहस्पतिवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में संपन्न हुई मंत्रिपरिषद की बैठक में ‘एआरएचसी’ के प्रस्ताव को मंजूरी मिली।

इस योजना से शहरी प्रवासी/गरीब मजदूर, आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग, निम्न आय वर्ग के व्यक्ति, जिसमें फैक्ट्री में कार्य करने वाले मजदूर, प्रवासी मजदूर, शिक्षण संस्थाओं, सत्कार कार्यां से जुड़े लोग, पर्यटक एवं छात्र लाभार्थी होंगे। योजना के तहत अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग, विधवाओं, कामकाजी महिलाओं, दिव्यांग और अल्पसंख्यक वर्ग से जुड़े लोगों को वरीयता दी जायेगी।

यह योजना प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के अंतर्गत क्रियान्वित की जाएगी। यह शहरी प्रवासियों/गरीबों के लिए किराये के आवास परिसरों के निर्माण, संचालन और रख-रखाव के लिए निजी/सार्वजनिक संस्थाओं की भागीदारी को बढ़ावा देगी।

वहीं योगी आदित्‍यनाथ ने होली समेत अन्य त्योहारों के दृष्टिगत कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम, बचाव और उपचार के लिए प्रभावी रणनीति बनाने के निर्देश अधिकारियों को दिये हैं। यहां जारी एक सरकारी बयान के अनुसार वर्तमान स्थिति की समीक्षा करते हुए मुख्‍यमंत्री ने कहा कि कुछ जिलों में संक्रमण के मामले मिल रहे हैं, अत: इसे रोकने के लिए प्रभावी रणनीति बनाई जाए।

उन्होंने कहा कि होली के पर्व के चलते अन्य राज्यों से लोग उत्तर प्रदेश आएंगे, ऐसे में सभी रेलवे एवं बस स्टेशनों तथा हवाई अड्डों पर जांच की व्यवस्था की जाए, साथ ही यात्री का पूरा ब्यौरा दर्ज कर उनकी निगरानी भी की जाए। मुख्यमंत्री ने बृहस्पतिवार को अपने सरकारी आवास पर वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये राज्‍य के सभी मंडलायुक्त, जिलाधिकारी, अपर पुलिस महानिदेशक/पुलिस आयुक्त लखनऊ एवं नोएडा, पुलिस महानिरीक्षक/पुलिस उप महानिरीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक/पुलिस अधीक्षक/नगर आयुक्त/अपर निदेशक चिकित्सा एवं स्वास्थ्य/मुख्य चिकित्साधिकारी/समस्त सरकारी एवं निजी मेडिकल कॉलेजों के प्रधानाचार्यों को संक्रमण की रोकथाम, बचाव और उपचार के सम्बन्ध में निर्देश दिए।

मुख्‍यमंत्री ने कहा कि लोगों को संक्रमण संबंधी प्रोटोकॉल का पालन करने के लिए प्रेरित किया जाए। यह भी सुनिश्चित किया जाए कि जनता मास्क का उपयोग अवश्य करे, साथ ही सामाजिक दूरी के नियम का भी पालन हो। मुख्यमंत्री ने होली और शबे बारात शांतिपूर्ण ढंग से मनाए जाने और संक्रमण से बचाव के नियमों का पालन सुनिश्चित करने के भी निर्देश अधिकारियों को दिए।

Next Stories
1 राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की तबीयत खराब, आर्मी हॉस्पिटल में देख रहे डॉक्‍टर
2 चुनावों से पहले चुनावी बॉन्ड पर रोक लगाने से SC का इनकार, सरकार से कहा था- आतंक में दुरुपयोग की आशंका देखें
3 लालू लाजवाब हैं! जब जन सभा के बीच वीडियो जर्नलिस्ट का कैमरा ले कवरेज करने लगे थे RJD नेता
ये पढ़ा क्या?
X