scorecardresearch

‘माफी मांगो नहीं तो दुकान पर आना पड़ेगा’, नूपुर के समर्थन पर आई फोन पर धमकी, कन्हैयालाल की हत्या के बाद भी मिली इन लोगों को मिल रही हैं धमकियां

अब छत्तीसगढ़ के बिलासपुर से भी नूपुर शर्मा को सोशल मीडिया पर समर्थन देने वालों पर धमकी और फिर जानलेवा हमले किए जाने की खबर आई है।

‘माफी मांगो नहीं तो दुकान पर आना पड़ेगा’, नूपुर के समर्थन पर आई फोन पर धमकी, कन्हैयालाल की हत्या के बाद भी मिली इन लोगों को मिल रही हैं धमकियां
नूपुर शर्मा Photo – File

उदयपुर में हुई कन्हैया लाल की बर्बर हत्या से पूरे देश में सनसनी फैल गई थी। अभी मामला ठंडा भी नहीं हुआ कि एक और ऐसी ही हत्या का मामला अमरावती में सामने आ गया। अभी ये मामला भी नहीं सुलझा था कि देश में कई जगहों से इस बात की खबर मिली है जो लोग सोशल मीडिया पर नूपुर का समर्थन कर रहे हैं उन्हें धमकी भरे कॉल्स आ रहे हैं। आजतक के एक वीडियो में तो एक ऑडियो का दावा भी किया गया है जिसमें वो पोस्ट करने वाले शख्स को धमकी देते हुए कह रहा है कि ‘माफी मांगों नहीं तो हम दुकान पर आते हैं।’ इस धमकी के बाद लोगों में भय का माहौल है और जिन लोगों ने ये पोस्ट की थी वो माफी मांगते हुए सुनाई दे रहे हैं।

ऐसा नहीं कि ये मामला सिर्फ अमरावती या उदयपुर का ही है। पूरे देश में ये नैरेटिव चल गया है कि जो भी नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट कर रहा है उसको धमकियां मिलनी शुरू हो जाती हैं। अगर हम उदयपुर और अमरावती की बात करें तो वहां भी हत्या से पहले इन लोगों को सोशल मीडिया पोस्ट के लिए धमकी मिली थी। अगर ऐसे में अब प्रशासन सख्त ना हुआ तो ना जाने क्या हो सकता है।

अब नागपुर में नूपुर के समर्थन पर युवक को धमकी
उदयपुर और अमरावती का के बाद अभी नागपुर में एक 22 वर्षीय युवक ने एक पोस्ट नूपुर के समर्थ में डाली थी उसे भी धमकी भरे कॉल आए जिसके बाद मुस्लिम समुदाय के कुछ लोगों ने उसे फोन पर धमकी दी और कहा ये पोस्ट हटा ले हालांकि पुलिस ने इस बार तुरंत एक्शन लिया और युवक को सुरक्षा मुहैया करवाई गई। सोशल मीडिया पोस्ट डिलीट करवाई गई और परिवार वालों ने कई बार माफी भी मांगी।

अमरावती में 10 से 15 लोगों को आए धमकी भरे फोन
हिन्दी न्यूज की वेबसाइट नई दुनिया के मुताबिक अमरावती से खबर है कि नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट करने वालों 10 से 15 लोगों को धमकी भरे कॉल आ चुके हैं। बताया गया है कि लगभग 10 लोगों ने ऐसे फोन कॉल्स की शिकायत पुलि में की लेकिन सिर्फ दो मामलों में ही शिकायत दर्ज हुई है अज्ञात लोगों के खिलाफ जांच जारी है। जो भी नूपुर के समर्थन में सोशल मीडिया पर लिख रहा है उसे पहले धमकी भरे कॉल्स जा रहे हैं और फिर उसकी हत्या हो जा रही है। ऐसा हम दो मामलों में देख चुके हैं।

युवक के बड़े भाई ने बताया कितने खौफ में जी रहें हैं परिजन
युवक के बड़े भाई ने टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में बताया कि जब से छोटे भाई ने सोशल मीडिया पर नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट किया है तब से वो बहुत जरूरी होने पर ही घर से बाहर निकलते हैं। उन्होंने बताया कि अभी अमरावती और उदयपुर की घटनाओं ने देश को झकझोर कर रख दिया है। उसके बाद अब मेरे छोटे भाई ने नूपुर के समर्थन में पोस्ट कर दी थी जिसके बाद हमें भी उसी तरह से जान से मारने की धमकियां मिल रही हैं। हम इतने डरे हुए हैं क‍ि पुलिस की मौजूदगी भी सुरक्षित महसूस नहीं करा पा रही। उन्होंने बताया कि हमने भाई से सेलफोन छीन लिया आज हम उसे अपने शहर के बाहर छोड़ने को विवश हैं।

छत्तीसगढ़ में दो युवकों पर जानलेवा हमला
अब छत्तीसगढ़ के बिलासपुर से भी नूपुर शर्मा को सोशल मीडिया पर समर्थन देने वालों पर धमकी और फिर हमले किए जाने की खबर आई है। नवभारत टाइम्स के मुताबिक बिलासपुर में कथित रूप से नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट करने पर दो युवकों पर जानलेवा हमला हुआ है। हमले के बाद दोनों युवकों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। इस बात को लेकर पूरे शहर में आक्रोश है। वहीं बिलासपुर पुलिस ने इस मामले को पूरी तरह से गलत बताते हुए आपसी विवाद का मामला बताया है।

पीड़ित युवा गुरुघासी केंद्रीय विश्वविद्यालय के छात्र
जानकारी के मुताबिक ओम मिश्रा और जय मिश्रा नाम के दोनों युवक गुरुघासी केंद्रीय विश्व विद्यालय के छात्र हैं। इन छात्रोंने आरोप लगाया है कि उन्होंने बीजेपी की पूर्व नेता नूपुर शर्मा के समर्थन में सोशल मीडिया पर पोस्ट डाली थी जिसके बाद उन्हें जान से मारने की कोशिश की गई है। युवकों ने बताया इस पोस्ट की वजह से हमें 8-9 युवकों ने घेर लिया और चाकुओं से हम पर वार करने लगे। जब तक हम किसी को पकड़ने की कोशिश करते वो अंधेरे का फायदा उठाकर भाग गए। इस हमले में दोनों के सिर में गहरी चोट आई है। बिलासपुर थाने में मामले की शिकायत की गई है। स्थानीय लोगों में इस घटना को लेकर आक्रोश था जिससे उन लोगों ने थाने का घेराव भी किया।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 04-07-2022 at 02:49:59 pm
अपडेट